19 November 2020

TGT-PGT 2020 शिक्षक भर्ती का विज्ञापन रद्द: तदर्थ शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी, मिलेगा वेटेज का लाभ

प्रयागराज : प्रदेश के हजारों तदर्थ शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी है। उन्हें अब नियमित शिक्षक बनने के लिए वेटेज अंकों का सही से लाभ मिलेगा, क्योंकि चयन बोर्ड प्रति प्रश्न कम अंक मिलने की खामी दूर करने जा रहा है। माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र की वर्चुअल बैठक में बुधवार को यह फैसला किया गया है। बोर्ड ने प्रवक्ता व प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक भर्ती 2020 का विज्ञापन निरस्त कर दिया है। संशोधित विज्ञापन जल्द वेबसाइट पर जारी किया जाएगा। इसी के साथ टीजीटी जीव विज्ञान विषय का विज्ञापन भी जारी करने का निर्णय लिया गया है।


बैठक बोर्ड अध्यक्ष बीरेश कुमार की अध्यक्षता में हुई। इसमें तय हुआ कि एक ही परीक्षा में तदर्थ शिक्षक व आम प्रतियोगी के लिए भिन्न-भिन्न अंक देने की त्रुटिपूर्ण व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। असल में, चयन बोर्ड ने टीजीटी-पीजीटी के पदों पर आवेदन करने वाले तदर्थ शिक्षकों को 1.75 अंक प्रतिवर्ष व अधिकतम 35 अंकों का वेटेज देने का निर्णय लिया था, लेकिन दोनों पदों के लिए प्रति प्रश्न मूल्यांकन आम प्रतियोगी से कम रखा था। इसी तरह से पीजीटी में आम प्रतियोगी को एक प्रश्न सही होने पर 3.4 अंक व तदर्थ शिक्षक को 3.12 अंक ही मिलता।

चयन बोर्ड ने प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक यानी टीजीटी में जीवविज्ञान विषय को शामिल करने का निर्णय लिया है। इससे भर्ती के कुल पदों की संख्या भी बढ़ सकती है। चयन बोर्ड की वेबसाइट पर कहा गया है कि प्रतियोगियों के हित में बुधवार को यह निर्णय लिया गया है।

चयन बोर्ड के उप सचिव की ओर से कहा गया है कि जो अभ्यर्थी पदों के सापेक्ष आनलाइन आवेदन कर चुके हैं उन्हें दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है, उनके आवेदन मान्य होंगे। सिर्फ नए अभ्यर्थी आवेदन करें।

प्रश्नों के मूल्यांकन में मिलेंगे समान अंक

अगर टीजीटी का प्रतियोगी 100 प्रश्न सही करता है तो उसे 400 अंक और तदर्थ शिक्षक इतने ही सवाल सही करने पर 372 अंक पाता। इससे उसे वेटेज अंकों का अपेक्षित लाभ नहीं मिलता। विधि विभाग ने भी इस मूल्यांकन प्रणाली को शीर्ष कोर्ट की अवमानना करार दिया। ऐसे में अब दोनों का समान मूल्यांकन करने की तैयारी है। संशोधित विज्ञापन में इसका प्रमुखता से उल्लेख रहेगा।

दिसंबर में होंगी आयोग की महत्वपूर्ण परीक्षाएं

राज्य ब्यूरो, प्रयागराज : प्रतियोगी छात्रों के लिए दिसंबर का महीना अहम होगा। नए साल से पहले उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग कई अहम परीक्षाओं के आयोजन की तैयारी में जुटा है। दिसंबर की शुरुआत में छह दिसंबर को खंड शिक्षा अधिकारी-2019 की मुख्य परीक्षा होगी। जबकि सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा-2019 की स्क्रीनिंग परीक्षा 13 को कराई जाएगी।

Guruji Portal: Hindi Notes| Free Exam Notes |GS Notes| Quiz| Books and lots more