ऑनलाइन पढ़ाई असफल होने के बाद अब बेसिक शिक्षा विभाग ने एक और पहल, घर-घर जाकर होमवर्क देंगे शिक्षक



बुलंदशहर। परिषदीय स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई असफल होने के बाद अब बेसिक शिक्षा विभाग ने एक और पहल की है। मिशन प्रेरणा के फेज -टू के तहत विभाग शिक्षकों को विद्यार्थियों के घर भेजने की तैयारी कर रहा है। शिक्षक छात्रों के घर पहुंचकर उन्हें होमवर्क देंगे। इस संबंध में बीएसए ने सभी एबीएसए को निर्देश जारी कर दिए हैं। शिक्षक अभिभावकों से इस व्यवस्था का फीडबैक भी लेंगे।

जनपद में 2399 परिषदीय स्कूल हैं। इनमें 2.21 से अधिक बच्चे पंजीकृत हैं। कोरोना में दस माह से स्कूल बंद होने के कारण परिषदीय विद्यालयों में पढ़ाई बाधित है। विभाग की ओर से ई-पाठशाला शुरू की गई। इसके साथ ही ऑनलाइन पढ़ाई के लिए कई एप भी जारी किए गए, लेकिन संसाधनों के अभाव में व्यवस्था सफल नहीं हो सकी। अधिकांश अभिभावकों के पास स्मार्ट फोन न होने के कारण बच्चे ऑनलाइन क्लास में शामिल नहीं हो सके। अब नई योजना में शिक्षक घर- घर जाकर बच्चों की पढ़ाई देखेंगे और उन्हें होमवर्क उपलब्ध करवाएंगे। साथ ही शिक्षक अभिभावकों से इस व्यवस्था का फीडबैक भी लेंगे। बेसिक शिक्षा अधिकारी अखंड प्रताप सिंह ने बताया 1. कि यह कार्यक्रम पठन-पाठन के लिहाज से बेहतर साबित होगा। एबीएसए शिक्षकों की

इस कार्य पद्धति की निगरानी करेंगे। संवाद