69000 भर्ती: भूख हड़ताल पर बैठा दिव्यांग अभ्यर्थी बेहोश, बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय पर 14 दिसंबर से धरना दे रहे अभ्यर्थियों में चार ने शुरु कर की थी भूख हड़ताल

प्रयागराज। 69000 सहायक अध्यापक भर्ती में आरक्षण की मांग को लेकर भूख हड़ताल कर रहे चार दिव्यांग अभ्यर्थियों में एक उपेंद्र मिश्रा रात 9.30 बजे बेहोश हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अभ्यर्थी को एंबुलेंस से लाकर काल्विन अस्पताल में भर्ती करा दिया। बेसिक शिक्षा परिषद पर धरने पर बैठे अभ्यर्थी रात में सचिव प्रताप सिंह बघेल के कहने पर एजी आफिस के बगल रैन बसेरे में चले गए थे। 



69000 सहायक अध्यापक भर्ती पर धरने पर बैठे चार अभ्यर्थियों में आरक्षण की विसंगति को लेकर उरपेंद्र मिश्रा, धनराज यादव, प्रदीप 14 दिसंबर से बेसिक शिक्षा परिषद शुक्ला एवं शरद अग्रहरि ने भूख हड़ताल शुरू कर दी थी। इनमें से उपेंद्र कौ हालत रात 9.30 बजे बिगड़ गई। उपेंद्र के बेहोश होने पर दूसरे साथियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस दूसरे अभ्यर्थियों से भी भूख हड़ताल खत्म करने का आग्रह कर रही थी। दिव्यांग अभ्यर्थियों का कहना है कि शिक्षक भर्ती में उन्हें चार फीसदी आरक्षण का लाभ नहीं दिया गया। दिव्यांग अभ्यर्थी आरपीडब्ल्यूडी ऐक्ट 2016 के तहत चार फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं। 


आठ एवं नौ जनवरी को महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद के शहर आगमन को देखते हुए दिव्यांगों ने आंदोलन तेज करने का फैसला किया है। दिव्यांग अभ्यर्थियों ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद प्रताप सिंह बघेल से मिलकर अपनी बात रखी। सचिव बेसिक शिक्षा परिषद ने दिव्यांग अभ्यर्थियों से भूख हड़ताल और धरना खत्म करने की अपील की। उन्होंने कहा कि ज्ञापन उन्होंने अपनी ओर से शासन को भेज दिया है। इस पर निर्णय शासन को लेना है।