तबादले के बाद स्कूल आवंटन अब बड़ी चुनौती:- 69,000 शिक्षक भर्ती के 36,590 शिक्षकों को पहले से तैनाती का इंतजार

प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षकों की अंतर जिला तबादला सूची जारी हो गई है, लेकिन वे कार्यमुक्त होकर स्थानांतरित जिले में कब ज्वाइन करेंगे, यह सवाल अब तक अनुत्तरित है। जिलों में 36,590 नवनियुक्त शिक्षक बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालयों में हाजिरी दे रहे हैं। उन्हें स्कूल का आवंटन कब होगा, यह भी परिषद ने स्पष्ट नहीं किया है। पहले किसे स्कूल दिया जाएगा, अब इसकी भी होड़ मचेगी, क्योंकि सभी शिक्षक मनचाहा स्कूल पाने को लालायित हैं।


परिषदीय स्कूलों की 69,000 शिक्षक भर्ती के दूसरे चरण में जिन 36,590 शिक्षकों को जिला आवंटित हुआ, उनकी काउंसिलिंग कराकर पांच दिसंबर को नियुक्ति पत्र दिया गया। परिषद ने इन शिक्षकों को स्कूल आवंटित करने की जगह सभी को बीएसए कार्यालय में उपस्थिति दर्ज कराने के निर्देश दिए, तब से नवनियुक्त शिक्षक स्कूल आवंटन की राह देख रहे हैं। कुछ को छोड़कर लगभग हर जिले में चयनितों की तादाद अधिक है और वे सभी सुगम स्कूल पाना चाहते हैं।

ऐसे में परिषद के अफसरों ने 31 दिसंबर की रात 21,695 शिक्षकों का अंतर जिला तबादला करके नवचयनित शिक्षकों की मुश्किल और बढ़ा दी है। परिषद के लिए अब चुनौती बढ़ गई है, क्योंकि स्थानांतरित शिक्षक भी संबंधित जिलों में मनचाहा स्कूल पाने की जुगत करेंगे। दोनों तरह के शिक्षक इसे लेकर भी परेशान हैं कि पहले स्कूल आवंटन किसका होगा। तय है कि दूसरे चरण में जिसकी बारी आएगी, उन्हें सुदूर के स्कूलों में जाना पड़ेगा। वहीं, स्थानांतरण से हर जिले में पद भी रिक्त हुए हैं। परिषद इस संबंध में जल्द ही आदेश जारी करेगा।