ARP के खिलाफ शिक्षक हुए लामबंद, शिक्षकों के साथ दबंगई दिखाने व अभद्र व्यवहार करने का आरोप


ARP के खिलाफ शिक्षक हुए लामबंद, शिक्षकों के साथ दबंगई दिखाने व अभद्र व्यवहार करने का आरोप
संसू, किशनीः पर्यवेक्षण के लिए प्राथमिक विद्यालय पहुंचे एआरपी ने अध्यापक पर अभद्रता करने का आरोप लगाया है। वहीं अध्यापक द्वारा एआरपी पर धन उगाही व शोषण करने का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी गई है। एआरपी के विरुद्ध शिक्षक संघ ने भी तहरीर देते हुए प्रदर्शन किया और कार्रवाई की मांग की।

परिषदीय विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रशासन द्वारा एकेडमिक रिसोर्स पर्सन पद का जन किया है। एआरपी शरद यादव ने थाने पर तहरीर दी कि वह मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय नगला बस्ती में सहयोगात्मक पर्यवेक्षण के लिए गए हुए थे। वहां परिचर्चा कर ही रहे थे कि सहायक अध्यापक अभय चौधरी डंडा लेकर आए और सरकारी कार्य में बाधा डालते हुए उनके साथ अभद्रता करने लगे। जब वह उनकी हरकतों को कैमरे में कैद करने लगे तो उन्होंने ने धक्का मारकर मोबाइल छीनने का प्रयास किया।

दूसरी तरफ अध्यापक अभय चौधरी ने थाने में दी तहरीर में कहा है कि उक्त एआरपी द्वारा बिना पूर्व सूचना दिए स्कूल का निरीक्षण किया गया। वह किसी काम से पास के ही दूसरे विद्यालय गए थे। इसी बात पर एआरपी ने उन्हें अपमानित किया और पैसे की मांग की। इसके बाद कई अन्य अध्यापक ब्लाक अध्यक्ष वैभव यादव के साथ थाना परिसर में पहुंच गए और पुलिस को तहरीर दी है। करीब दो दर्जन शिक्षकों ने थाना परिसर में प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग की। पुलिस घटना की जांच कर रही है। इस मौके पर संगठन के जिला उपाध्यक्ष हेमसिंह यादव, सुदीप पांडे, जैनुल, शिवकुमार, अवनीश यादव, अरविंद सिंह, अशोक कुमार, हरिओम शाक्य, अनुज कुमार, विमल राजपूत, श्यामवीर सिंह, जयप्रकाश, अनुराग दीक्षित, राधारमण, राहुल कुमार, हरेंद्र सिंह मौजूद रहे।
एआरपी शरद यादव ने मुझे फोन कर अपने साथ हुई अभद्रता के बारे में बताया था। दोनों पक्षों के थाने जाने की जानकारी नहीं है। मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करेंगे।
विजय प्रताप सिंह, बीएसए