डीएलएड के मूल्यांकन में हुआ खेल, चार लाख प्रशिक्षुओं का परिणाम इसी सप्ताह संभावित


डीएलएड और बीटीसी के मूल्यांकन में गड़बड़ी के आरोप लगे हैं। रुपये लेकर प्रशिक्षुओं को पास करने की शिकायतों पर कुछ जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों (डायट) से कॉपियां मंगाकर जांच कराई जा रही है।

डीएलएड एवं बीटीसी के विभिन्न सेमेस्टर के तकरीबन पांच लाख प्रशिक्षुओं की परीक्षाएं 30 अक्तूबर से 11 नवंबर के बीच हुई थी। मूल्यांकन के लिए कॉपियां डायट भेजी गई थीं। कुछ डायट में मूल्यांकन में गड़बड़ी की बात सामने आई है। कुछ छात्रों को कॉपियों में मिले वास्तविक अंक से अधिक दिए जाने की बात कही जा रही है। परीक्षानियामक प्राधिकारी को डायट से मिली अंकचिट में काटछांट और ओवर राइटिंग मिलने पर अफसर गंभीर हो गए| सूत्रों के अनुसार शक होने पर दोबारा जांच के लिए कुछ डायट से कॉपियां मंगा ली गई हैं। सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी का कहना है कि सामान्य प्रक्रिया के तहत कुछ कॉपियां डायट से मंगाकर जंचवाई जा रही है।



चार लाख प्रशिक्षुओं का परिणाम इसी सप्ताह संभावित

डीएलएड एवं बीटीसी प्रथम, द्वितीय एवं चतुर्थ सेमेस्टर के तकरीबन चार लाख प्रशिक्षुओं का परिणाम इसी सप्ताह आने की संभावना है। रविवार को तृतीय सेमेस्टर का परिणाम घोषित किया गया था।