‘विकल्प’ से होगा शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार,बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री ने किया एचसीएल के पोर्टल लॉन्च, यह होंगी पोर्टल की विशेषताएं

बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार और शिक्षण सामग्री पहुंचाने के लिए एचसीएल फाउंडेशन ने वेब पोर्टल ‘विकल्प’ तैयार किया है। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी ने इसे बृहस्पतिवार को निशातगंज स्थित राज्य शैक्षिक तकनीकी संस्थान में एक कार्यक्रम में लॉन्च किया।


राज्यमंत्री ने कहा कि विकल्प पोर्टल पर पाठ्यपुस्तकों के साथ मैप की गई एक हजार से अधिक वीडियो उपलब्ध है। इसके जरिये रियल टाइम मूल्यांकन भी किया जा सकता है। साथ ही कहा कि सरकार विभिन्न कॉर्पोरेट समूहों के साथ मिलकर स्कूलों का कायाकल्प कर रही है। एचसीएल फाउंडेशन जैसे संस्थानों के सहयोग से बुनियादी शिक्षा में बड़ा परिवर्तन लाया जा सकता है। वहीं, बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि पोर्टल शैक्षिक वातावरण विकसित करने में मदद करेगा। फाउंडेशन के निदेशक आलोक वर्मा ने कहा कि विकल्प पोर्टल विद्यार्थियों को व्यावसायिक विकास का अवसर भी देगा।


ये हैं पोर्टल की विशेषताएं
- कक्षा एक से पांच तक पाठ्यक्रम आधारित सामग्री का स्थानीयकरण किया गया है।
- कक्षा एक से आठ के मूल्यांकन के लिए प्रश्न बैंक उपलब्ध है।