शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल भवनों की जांच का विरोध

 लखनऊ: शिक्षा विभाग द्वारा निजी स्कूलों के भवनों की जांच कराए जाने पर सीबीएसई स्कूलों के प्रबंधकों ने विरोध किया है। उनका कहना है कि विभाग द्वारा उन्हें परेशान किया जा रहा है।


निजी स्कूलों का कहना है कि सरकार ने बेसिक शिक्षा विभाग के तहत संचालित परिषदीय स्कूलों का स्थलीय निरीक्षण कर जर्जर स्कूलों को चिह्न्ति करने के निर्देश जारी किए थे, मगर शिक्षा विभाग उन निजी स्कूलों को चिह्न्ति कर रहा है, जो हाल में निर्मित हुए हैं। शासन की ओर से ऐसे स्कूलों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए गए थे, जो जर्जर अवस्था में हैं। इनमें अधिकांश परिषदीय स्कूल हैं। सोमवार को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से जांच दल सेंट जोसफ स्कूल पहुंचा। दल ने निर्धारित ¨बदु पर पूछताछ करते हुए अपनी आख्या रिपोर्ट भरी।

उधर, अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के स्टेट प्रेसिडेंट अनिल अग्रवाल का कहना है कि निजी स्कूल अच्छी अवस्था में हैं। इसके बावजूद विभाग द्वारा जांच कराई जा रही है। संगठन ने इसका विरोध किया है। इस संबंध में डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने कहा कि सभी स्कूलों का स्थलीय निरीक्षण कराया जा रहा है। इसमें किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।