संस्कृत पढ़ने वाले मेधावियों को मिलेगी छात्रवृत्ति, संस्कृत पढ़ने वाले मेधावियों को मिलेगी छात्रवृत्ति: जानिए कितना मिलेगा रुपया

संस्कृत की पढ़ाई करने वाले मेधावियों के लिए अच्छी खबर है। केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय की तरफ से सत्र 2020-21 में उन्हें छात्रवृत्ति दी जाएगी। यह छात्रवृत्ति संस्कृत के विकास योजना के तहत परंपरागत धारा में मान्यता प्राप्त संस्कृत पाठशाला, महाविद्यालय, विश्वविद्यालय के साथ ही माध्यमिक विद्यालयों के छात्र- छात्राओं को दी जाएगी। सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 60 प्रतिशत, अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 55 प्रतिशत, अनुसूचित जाति- जन जाति के लिए 50 प्रतिशत अंक पाना जरूरी है। केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय की तरफ से जारी पत्र में कहा गया है कि अभ्यर्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आखिरी तारीख 31 मार्च 2021 है। कक्षा नौ और दस के विद्यार्थियों को 500 रुपये, 1वीं और 12वीं के लिए 600 रुपये है। स्नातक स्तर पर 800 रुपये दिए जाएंगे। यह छात्रवृत्ति सिर्फ दस माह मिलेगी। अगले वर्ष के लिए फिर से आवेदन करना होगा।



परास्नातक स्तर पर छात्रवृत्ति 1000 रुपये
परास्नातक के मेधावियों को एक हजार रुपये प्रतिमाह मिलेगा। इसके लिए जरूरी है कि विद्यार्थी का विषय संस्कृत, पाली, प्राकृत हो। स्नातक में सभी विषयों में 60 प्रतिशत अंक भी होने जरूरी हैं। प्रथम और द्वितीय वर्ष में प्रत्येक वर्ष आवेदन करना होगा।

विद्यावारिधि या पीएचडी में भी छात्रवृत्ति

संस्कृत, पाली, प्राकृत में विद्यावारिधि या पीएचडी के विद्यार्थी भी छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकते हैं। उन्हें 35000 रुपये वार्षिक दिया जाएगा। अधिकतम दो वर्ष यह सुविधा दी जाएगी। इसके लिए वही अभ्यर्थी पात्र होंगे जो विज्ञापन से पूर्व पंजीकृत हों।