“कर्मचारियों व शिक्षकों की मांगों पर ध्यान दे सरकार', कर्मचारी शिक्षक संयुक्‍त मोर्चा ने सीएम को लिखा पत्र

लखनऊ। कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा ने कर्मचारियों और शिक्षकों की लंबित मांगों पर सीएम से समाधान की गुहार लगाई है। मोर्चा अध्यक्ष बीपी मिश्रा और महामंत्री शशि कुमार मिश्रा ने बृहस्पतिवार को इस संबंध में सीएम को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने कहा है कि मुख्य सचिव स्तर पर कई बार वार्ता होने के बावजूद समाधान न होना दुखद है। सीएम को भी कई बार पत्र लिखने के बावजूद समस्याओं का समाधान नहीं होना और दुखद है। कोरोना काल में जान पर खेलकर सेवा करने बाले कर्मचारियों का इस तरह मनोबल गिराना अनुचित है। कर्मचारी प्रदेश सरकार के कार्यक्रमों को सफल बनाने में जान लगा देते हैं। कोरोना संक्रमण से कई कर्मचारियों की मौत भी हो चुकी है। फिर भी कर्मचारी सरकार को पूरा सहयोग दे रहे हैं। इसके बावजूद उनके साथ ऐसा बर्ताव किसी तरह से ठीक नहीं है। 




ये हैं मांगें : मोर्चा ने मुख्यमंत्री से बेतन समिति की सिफारिश के अनुरूप कैबिनेट से निर्णय कराकर शासनादेश जारी करने और लॉकडाउन में रोके गए वेतन को वापस लौटाने तथा स्थानीय निकाय कर्मचारियों के सेवा संबर्ग का पुनर्गठन करके राज्य कर्मचारियों की भांति सातवें में वेतन आयोग का पूरा लाभ देने की मांग की। कई राजकीय निगमों में कर्मचारियों को अभी 7वां वेतनमान नहीं मिल रहा है। यह पूरी तरह अनुचित है।