प्रदेश के डेढ़ लाख अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर, अब NIOS से डीएलएड करने वाले अभ्यर्थी यूपीटीईटी के लिए अर्ह

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) से  डीएलएड करने वाले देश भर के 14 लाख एवं प्रदेश के डेढ़ लाख अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है। एनआईओएस से डीएलएड करने वाले अभ्यर्थी अब उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) एवं प्रदेश सरकार की शिक्षक भर्ती में शामिल हो सकेंगे।


एनसीटीई ने डीएलएड करने वालों को टीईटी पास होने पर शिक्षक भर्ती में शामिल हो सकेंगे। केंद्र सरकार की ओर से देश भर के निजी विद्यालयों में काम करने वाले अप्रशिक्षित शिक्षकों को प्रशिक्षण देने के लिए एनआईओएस की ओर से डीएलएड का प्रशिक्षण दिया गया था। प्रशिक्षण के बाद एनसीटीई ने एनआईओएस से डीएलएड करने वालों को मान्यता देने से मना कर दिया।


पटना हाईकोर्ट की ओर से डीएलएड कोर्स को मान्य किए जाने के बाद एनसीटीई ने पूरे देश में डीएलएड को मान्य कर दिया। एनसीटीई के उप सचिव टी प्रीतम सिंह की ओर से भेजे गए पत्र में एनआईओएस से डीएलएड करने वालों को शिक्षक भर्ती एवं शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल करने को कहा है। डीएलएड करने वाले प्रशिक्षुओं को अब प्रदेश सरकार की ओर से जारी होने वाली शिक्षक भर्ती एवं शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा।