UPSSSC : प्रारंभिक अर्हकारी परीक्षा का पाठ्यक्रम तय, इंटर स्तर की होगी परीक्षा

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) ने इस साल खाली पदों को भरने की पहला कदम बढ़ा दिया है। आयोग ने बृहस्पतिवार को द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली के अंतर्गत प्रारंभिक अर्हकारी परीक्षा (पेट) से संबंधित पाठ्यक्रम को मंजूरी दे दी है। आयोग पाठ्यक्रम पर शासन की अनुमति के बाद आगे की कार्यवाही करेगा।


आयोग ने प्रदेश में विभिन्न विभागों से आए रिक्त पदों पर भर्ती के लिए द्विस्तरीय परीक्षा कराने की नीति लागू की है। इसके अंतर्गत पहले ऑफलाइन प्रारंभिक अर्हकारी परीक्षा कराई जाएगी। इसके बाद मुख्य परीक्षा के जरिए चयन किया जाएगा। मुख्य परीक्षा ऑनलाइन कराने की योजना है। पेट बहुविकल्पीय होगा। इसमें 100 सवालों को हल करने के लिए 120 मिनट दिए जाएंगे। इस परीक्षा में माइनस मार्किंग का प्रावधान किया गया है। प्रत्येक गलत उत्तर पर 1/4 (एक चौथाई) अंक कट जाएगा।


पेट परीक्षा इंटरमीडिएट स्तर की होगी। इसमें सामान्य ज्ञान एवं विज्ञान, सामान्य हिंदी एवं अपठित गद्यांश आधारित प्रश्न, प्रारंभिक गणित, तार्किक योग्यता, आंकड़े और ग्राफ के विश्लेषण पर आधारित प्रश्न पूछने की योजना है। हालांकि पाठ्यक्रम पर अंतिम फैसला शासन करेगा। यूपीएसएसएससी चेयरमैन प्रवीर कुमार ने कहा कि पेट के पाठ्यक्रम को अंतिम रूप दे दिया गया है। इसे मंजूरी के लिए शासन को भेजा रहा है। शासन की अनुमति मिलने के बाद इसे अभ्यर्थियों के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा।