संघ लोकसेवा आयोग का नियम लागू करने की मांग तेज

 प्रयागराज : कोरोना महामारी का विपरीत प्रभाव हर क्षेत्र में पड़ा। वर्ष 2020 में उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की पीसीएस समेत विभिन्न परीक्षाओं में अभ्यर्थियों की संख्या अपेक्षा से कम रही। प्रतियोगी छात्र कोरोना का हवाला देकर संघ लोकसेवा आयोग की तर्ज पर यूपीपीएससी की पीसीएस के साथ आरओ-एआरओ, पीसीएस-जे, सहायक अभियोजन अधिकारी समेत सीधी भर्ती के अंतर्गत होने वाली भर्तियों में अतिरिक्त मौका मांग रहे हैं।


प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति इंटरनेट मीडिया में मुहिम चला रहा है। साथ ही रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व यूपीपीएससी अध्यक्ष को पत्र भेजकर उनसे अतिरिक्त मौका देने की मांग की है। समिति के मीडिया प्रभारी प्रशांत पांडेय का कहना है कि जिन अभ्यर्थियों की आयुसीमा खत्म हो रही ह,ै संघ लोकसेवा आयोग ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए उन्हें एक अतिरिक्त अवसर दिया है। उसी प्रकार उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग भी प्रतियोगियों के भविष्य को देखते हुए एक अतिरिक्त अवसर प्रदान करे।