स्कूल खुले, शिक्षक कर रहे कोरोना ड्यूटी


राजधानी के सभी ब्लाकों और नगर क्षेत्र के बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित पूर्व माध्यमिक विद्यालय खुलने शुरू हो चुके हैं। लेकिन इन विद्यालयों में पढ़ाने वाले शिक्षकों की वापसी कोरोना ड्यूटी से अभी तक नहीं हो सकी । इस स्थिति में विद्यालयों में पढ़ाई प्रभावित हो रही है। सभी ब्लाकों के बीईओ का कहना है शिक्षकों की ड्यूटी कोरोना पीरीयड में लगायी गयी थी, लेकिन अभी तक शिक्षकों की वापसी नहीं हो पायी है। इस स्थिति में शिक्षकों की कमी है। इस संबंध में अधिकारियों का कहना है शासन की ओर से जो निर्णय होगा उसका पालन किया जायेगा। अधिकारियों ने बताया कि उम्मीद है कि शिक्षकों की वापसी 1 मार्च तक स्कूलों में हो जायेगी।


हर ब्लाक ब्लाक से 18 से 20 शिक्षक ड्यूटी पर विभाग की ओर से दी गयी जानकारी के मुताबिक राजधानी के सभी ब्लाकों हर ब्लाक ब्लाक से 18 से 20 शिक्षक ड्यूटी परःविभाग की ओर से दी गयी जानकारी के मुताबिक राजधानी के सभी ब्लाकों समेत सभी नगर क्षेत्र से 18 से 20 शिक्षक कोरोना ड्यू टी पर लगाये 
गये थे। लेकिन अभी तक इनकी वापसी नहीं हो पायी है। जबकि स्कूल खुलते बच्चे आने भी शुरू हो गये हैं और मध्यान्ह भोजन भी बनना शुरू हो गया है।

डीएम के आदेश पर लगी है ड्यूटी:कोरोना काल में हर ब्लाक से शिक्षकों की ड्यूटी जिलाधिकारी के आदेश पर लगायी गयी थी, लेकिन अभी इनकी वापसी कबतक होगी इस पर भी निर्णय जिला प्रशासन को ही लेना है। ऐसे में अब उम्मीद की जा रही है एक मार्च से शिक्षकों की वापसी हो सकती है।