एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती : सत्यापन में फंसी एसटी अभ्यर्थियों की नियुक्ति

राजकीय विद्यालयों में सहायक अध्यापक (प्रशिक्षित स्नातक) भर्ती में चयनित अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों की नियुक्ति सत्यापन प्रक्रिया में फंसी है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने अभ्यर्थियों के संबंधित जिले के जिलाधिकारी से सत्यापन मंगवाया है। इस कारण इनकी फाइलें पदस्थान के लिए शिक्षा निदेशालय नहीं भेजी जा सकी है।


पूर्व में एसटी अभ्यर्थियों के प्रमाणपत्र में फर्जीवाड़े की शिकायतें मिल चुकी है। यही कारण है कि आयोग संस्तुति भेजने से पहले आश्वस्त हो लेना चाहता है। एलटी ग्रेड भर्ती में एसटी अभ्यर्थियों के लिए पुरुष के 100 और महिला वर्ग के 108 पद आरक्षित थे।

प्रवक्ता के पांच विषयों का परिणाम घोषित
प्रयागराज। आयोग ने राजकीय इंटर कॉलेजों में 2016-17 में विज्ञापित प्रवक्ता नागरिकशास्त्र, भौतिक विज्ञान, उर्दू, संस्कृत, अंग्रेजी का परिणाम शनिवार को घोषित कर दिया। सीधी भर्ती के पदों का साक्षात्कार 17 फरवरी को हुआ था। नागरिकशास्त्र में समता शाही, पूनम रानी व गायत्री पाल, भौतिक विज्ञान में आकांक्षा जैन, उर्दू में कमर जहां व शबनम, संस्कृत में आयुषी राणा, बीनू सिंह, सुषमा द्विवेदी, रागिनी मौर्य व सीमा जबकि अंग्रेजी में रुबी पांडेय, अनीता व खुशबू सिंह का चयन हुआ है। वहीं प्राविधिक शिक्षा विभाग के अंतर्गत प्रवक्ता अंग्रेजी के 20 पदों पर का परिणाम 6 मार्च 2020 को घोषित किया गया था। इनमें 18 नंबर पर चयनित अभ्यर्थी के कार्यभार ग्रहण न करने पर आयोग ने श्वेता चौधरी के चयन की संस्तुति की है।