तीन भर्तियों के परिणाम इस साल, लंबित भर्तियों की परीक्षा व जल्द रिजल्ट देकर सुधारा कैलेंडर

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने भले ही 2021 पीसीएस भर्ती निकाली है लेकिन, इस साल परिणाम तीन पीसीएस भर्तियों के आएंगे। प्रदेश को करीब 1275 पीसीएस अफसरों की बड़ी खेप नियमित अंतराल पर मिलेगी। अहम यह सभी भर्तियां वर्षवार पूरी होंगी, ताकि एक परीक्षा में असफल अभ्यर्थी को दूसरे में मौका मिल सके। वहीं, इसी साल पीसीएस की भर्ती फिर से पटरी पर लौट आएगी।


प्रदेश की पीसीएस परीक्षा सबसे बड़ी भर्ती है। कुछ वर्ष पहले तक इस भर्ती और यूपीएससी की आइएएस भर्ती का विज्ञापन जनवरी माह में ही जारी होता रहा है और वर्ष के अंत तक चयन पूरा हो जाता था। इसका उदाहरण खोजने के लिए बहुत पीछे जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि इसी साल पीसीएस 2019 और 2020 का चयन होना बाकी है। 2019 पीसीएस का साक्षात्कार पूरा हो चुका है, जबकि 2020 की मुख्य परीक्षा हो चुकी है उसके बाद साक्षात्कार कराकर परिणाम दिया जाएगा। अन्य भर्तियों का अंदाजा लगाया जा सकता है। आयोग में प्रभात कुमार के अध्यक्ष बनने के बाद उन्होंने परीक्षाओं को समय पर कराने और कुछ माह के अंतराल पर ही परिणाम देने का नियम बनाया। अध्यक्ष के निर्देश पर लंबित भर्तियों की परीक्षाएं तेजी से कराई गईं साथ ही एक विवादित परीक्षा को निरस्त करके दोबारा कराई गई। इस वर्ष अभी आइएएस का विज्ञापन जारी नहीं हुआ है इसके पहले ही पीसीएस का विज्ञापन जारी करके आवेदन लिए जा रहे हैं।