नंबर बढ़ाने को दोबारा दे सकेंगे यूपी बोर्ड परीक्षा

 लखनऊ : अगर आपके यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा में कम अंक भी आते हैं, तो अब मायूस होने की जरूरत नहीं। यूपी बोर्ड अंक बढ़ाने के लिए दोबारा परीक्षा में शामिल होने का मौका देगा। बोर्ड परीक्षा पहले की ही तरह वर्ष में एक ही बार होगी। विद्यार्थी दूसरे वर्ष की बोर्ड परीक्षा में शामिल होकर अंक बढ़ा सकेगा। उसे सभी विषयों की परीक्षा में शामिल होने का मौका दिया जाएगा। वर्ष 2022 की बोर्ड परीक्षा से ही इसे लागू कराया जाएगा।


सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (सीबीएसई) व काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सार्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआइएससीई) की तर्ज पर यूपी बोर्ड भी दोबारा सभी विषयों में नंबर बढ़ाने का मौका देगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में भी इसे शामिल किया गया है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में राष्ट्रीय शिक्षा नीति को प्रदेश में लागू कराने के लिए गठित टास्क फोर्स की बैठक में यह निर्णय लिया गया। उच्च शिक्षा विभाग और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग के बीच एमओयू भी हुआ। अब विश्वविद्यालय व कॉलेजों के विद्यार्थी इंटर्नशिप भी कर सकेंगे। उप्र कौशल विकास मिशन के निदेशक कुणाल सिल्कू ने बताया कि सीएम अप्रेंटिसशिप योजना के तहत कुल 2,500 रुपये दिए जा रहे हैं। अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा मोनिका एस गर्ग ने कहा कि इंडस्ट्री-एकेडमिया सेल बनाई जाएगी। उद्योगों के लिए रिसर्च उच्च शिक्षण संस्थान करेंगे और उद्योग विद्यार्थियों को इंटर्नशिप का मौका देंगे।