आयोग का कमाल : कम अभ्यर्थी व पर्याप्त सदस्य, साक्षात्कार सात दिन में पूरा

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने साक्षात्कार के बाद परिणाम देने में ही तेजी नहीं दिखाई, बल्कि साक्षात्कार भी पहली बार सात दिन में पूरा किया। इसकी वजह कम अभ्यर्थी व पर्याप्त सदस्यों का होना रहा है।


यूपीपीएससी की पीसीएस 2019 भर्ती दो बड़े बदलाव हुए। पहला प्रारंभिक से मुख्य परीक्षा के लिए रिक्त पदों के सापेक्ष 18 से 13 गुना और दूसरा मुख्य परीक्षा से साक्षात्कार के लिए तीन की जगह दो गुना अभ्यíथयों को सफल घोषित करने का नियम लागू हुआ। इससे कॉपियों की संख्या कम होने के कारण मुख्य परीक्षा का परिणाम जल्द यानी करीब तीन माह में आया। मुख्य परीक्षा 22 से 26 सितंबर तक प्रयागराज, लखनऊ और गाजियाबाद में आयोजित की गई थी। जिसका परिणाम 24 दिसंबर को घोषित हुआ था। इसी तरह से साक्षात्कार के लिए 811 अभ्यíथयों को सफल घोषित किया था।