प्रधानों और ब्लाक प्रमुखों के आरक्षण का चार्ट तैयार, जानें किस तारीख को किया जाएगा सार्वजनिक

प्रतापगढ़। जिले के प्रधानों और ब्लाक प्रमुखों के पदों के आरक्षण का चार्ट तैयार हो गया है। हालांकि इसे एक मार्च को ही सार्वजनिक किया जाएगा। लखनऊ में बैठे अफसरों ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की घोषणा होने से पहले ही यह तैयारी कर ली है। जिला प्रशासन को जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम पंचायत वार्डों का आरक्षण तय करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिस पर तेजी से काम हो रहा है।



त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की घोषणा भले ही नहीं हुई है, मगर पंचायती राज विभाग में तैयारियां चल रही हैं। जिले के ग्राम प्रधानों और ब्लाक प्रमुखों के पद आरक्षित करने का कार्य पूरा हो गया है। अफसर सिर्फ निर्धारित तिथि का इंतजार कर रहे हैं। पहले चरण में उन 69 ग्राम पंचायतों को आरक्षण के दायरे में लिया गया है, जो अभी तक आरक्षित नहीं हुई थीं।


दूसरा मानक ग्रामीण इलाकों की जातिगत आबादी पर आधारित है। जिले की 1193 ग्राम पंचायतों में 197 सामान्य महिला, 92 अनुसूचित जा ति महिला , 113 पिछड़ी जाति महिला के लिए आरक्षित की गई हैं, जबकि 165 ग्राम पंचायतों को अनुसूचित जाति पुरुष, 207 सीटें पिछड़ी जाति पुरुष और 419 सीटें अनारक्षित की गई हैं। ब्लाक प्रमुख पद के लिए अनुसूचित जाति की दो महिला, दो पुरुष, पिछड़ी जाति की दो महिला, दो पुरुष और दो सीटें सामान्य महिला के लिए आरक्षित की गई हैं। सात सीटें अनारक्षित हैं।

जिला प्रशासन को जिला पंचायत सदस्यों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों और ग्राम पंचायत सदस्य के वार्डों के आरक्षण का निर्धारण करने को कहा गया है। हालांकि इन वार्डों के निर्धारण में भी वही मानक लागू हो रहा है। जो वार्ड अभी तक नहीं आरक्षित हुए हैं, उन्हें सबसे पहले आरक्षित किया जाएगा। उसके बाद जिस वार्ड में जिस जाति के अधिक लोग होंगे, उसी जाति के लिए सीट आरक्षित होगी। आरक्षण की अनंतिम सूची एक मार्च को जारी की जाएगी।
लखनऊ में आयोजित दो दिनी प्रशिक्षण में यह जानकारी दी गई है कि प्रधान और ब्लाक प्रमुख पदों के लिए आरक्षण का कार्य पूरा हो चुका है। जिला पंचायत सदस्यों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों और ग्राम पंचायत के वार्डों को आरक्षित करने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन को दी गई है। जिस पर तेजी से कार्य चल रहा है। -रविशंकर द्विवेदी, डीपीआरओ