सरकारी शिक्षक बनाने के नाम पर मांगे 10 लाख रुपए, रिपोर्ट दर्ज

अमरोहा। थाना क्षेत्र में पुलिस की वर्दी पहनकर खुद को पुलिस विभाग में सिपाही होने का दावा करने वाले एक युवक के खिलाफ शिक्षक बनाने के नाम पर 10 लाख रुपये की डिमांड करने के मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपी अभी फरार है। तलाश की जा रही है।


थाना क्षेत्र के गांव बुरावली निवासी मोहनलाल ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि बेटा हरिओम सागर जान पहचान के कुछ युवकों के साथ कोचिंग करता था। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता था। इसी दौरान वह गांव गांगटकोला निवासी राहुल गुर्जर से मिला। राहुल वर्ष 2019 में पुलिस की वर्दी पहन कर गांव आया और खुद को पुलिस विभाग में नौकरी लगने की बात कहते हुए मुरादाबाद में ट्रेनिंग चलने की बात की। आरोप है कि वह अक्सर असलाह लेकर पुलिस की वर्दी में आता रहता था और बेटे से मिलता रहता था। कुछ समय पूर्व बेटे ने सुपर टेट की परीक्षा पास की तो वह बेटे हरिओम सागर से मिला और शिक्षक बनाने के नाम पर 10 लाख रुपए मांगे। युवक के बारे में उसके परिचितों से जानकारी की गई तो पता चला कि वह पुलिस में नहीं है। वह फर्जीवाड़े से ही लोगों को बेवकूफ बनाता रहता है। कभी खुद को बीडीओ बताता है तो कभी सिपाही के पद से त्यागपत्र देने की बात कहता है। कई लोगों को चुना लगा चुका है। लड़कियों का भी शारीरिक एवं मानसिक शोषण करने का आरोप लगाया। थाना प्रभारी सत्येंद्र कुमार सिंह ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर गांगटकोला निवासी राहुल गुर्जर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।