प्राथमिक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ी, 12 शिक्षक निशाने पर

उन्नाव। जिले में छह महीने पहले हुई शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में मार्कशीट में कम व ऑनलाइन अधिक नंबर भरे जाने का मामला सामने आया है। शासन स्तर से हुई जांच में जिले के 12 नव नियुक्त शिक्षक निशाने पर हैं। इनकी नियुक्ति निरस्त करने की तैयारी चल रही है।




अक्तूबर 2020 में जिले में शिक्षक भर्ती प्रक्रिया की शुरुआत हुई थी। जिले में नियुक्त हुए 1002 शिक्षकों में पहले चरण में 16 अक्तूबर को 865 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिए गए थे। दूसरे चरण में 7 दिसंबर को 137 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र मिले थे। शिक्षकों की नियुक्ति के बाद शासन स्तर से भर्ती प्रक्रिया की जांच शुरू हुई।

अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार के निर्देश पर कराई जा रही जांच में जिले के 12 नव नियुक्त शिक्षक ऐसे मिले हैं जिनके अंकपत्र में नंबर कम हैं और ऑनलाइन में उन्होंने अधिक भर दिया है। 5 मार्च को जारी सचिव के निर्देश के मुताबिक अभ्यर्थी ने बिना किसी अभिलेख के आधार पर खुद वास्तविक प्राप्तांक से अधिक अंक या फिर कम नंबर भरे हैं उनका चयन निरस्त किया जाएगा।
सचिव का आदेश आने के बाद शिक्षा विभाग में जांच शुरू हुई है। जिसमें जिले के अभी तक 12 नव नियुक्त शिक्षक ऐसेे मिले हैं जिन्होेंने अंकपत्र में कम नंबर होने के बाद भी ऑनलाइन आवेदन में अधिक नंबर भर दिए हैं। अभी जांच चल रही है।
एडी बेसिक बोले
69 हजार शिक्षक भर्ती प्रक्रिया की जांच चल रही है। गलत तरीके से नंबर भरने वाले अभ्यर्थियों का चयन निरस्त करने के निर्देश बेसिक शिक्षा सचिव ने किए हैं। बीएसए स्तर से जांच चल रही है। जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई की जाएगी।
-पीएन सिंह, एडी बेसिक
बीएसए बोले
जिले में अभ्यर्थियों की ओर से ऑनलाइन कम नंबर भरने वाले एक भी अभ्यर्थी नहीं है। अधिक भरने वाले अभ्यर्थी हैं। जिनकी सूची तैयार हो रही है। सूची न्याय विभाग को भेजी जाएगी। वहां के निर्णय के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।
-प्रदीप कुमार पांडेय, बीएसए