टीजीटी-पीजीटी 2021: नए विज्ञापन में फिर से करना होगा आवेदन, शुल्क से राहत

प्रदेश के साढ़े चार हजार से अधिक एडेड माध्यमिक कालेजों की प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक व प्रवक्ता (टीजीटी-पीजीटी) 2021 भर्ती में सभी को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। उन अभ्यर्थियों को भी आवेदन से छूट नहीं है, जो 2020 का विज्ञापन जारी होने पर आवेदन कर चुके हैं, हालांकि उन्हें शुल्क से राहत जरूर मिलेगी। यानी जो अभ्यर्थी अब तक इत्मीनान में थे कि आवेदन पहले ही कर चुके हैं, उन्हें फिर से उसी पद व विषय के लिए नए सिरे से ऑनलाइन आवेदन करना होगा।


माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र ने टीजीटी-पीजीटी 2020 का विज्ञापन 29 अक्टूबर को जारी किया था। उस समय कुल पदों की संख्या 15,508 थी। उसी समय बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने रिक्त पदों के सापेक्ष ऑनलाइन आवेदन शुरू कर दिया था। हालांकि चयन बोर्ड ने 18 नवंबर 2020 को विज्ञापन निरस्त कर दिया था। यह भी कहा गया था कि जो अभ्यर्थी आवेदन कर चुके हैं, उनके आवेदन मान्य होंगे। चयन बोर्ड ने 15 मार्च को नए सिरे से विज्ञापन जारी किया है। इसमें तदर्थ शिक्षकों का प्रति प्रश्न मूल्यांकन व जीव विज्ञान विषय को शामिल करते हुए पुरानी गलतियां दुरुस्त की गई हैं। साथ ही पदों की संख्या में भी बदलाव हुआ है। इस बार कुल 15,198 पदों का विज्ञापन जारी किया गया है, जिसमें पिछले विज्ञापन के मुकाबले 310 पद कम हैं।

चयन बोर्ड ने घोषित विज्ञापन के सापेक्ष 16 मार्च से ही ऑनलाइन आवेदन लेना शुरू कर दिया है, यह प्रक्रिया 15 अप्रैल तक जारी रहेगी। इसमें कहा गया है कि टीजीटी-पीजीटी 2021 के लिए अभ्यर्थियों को नए सिरे से आवेदन करना होगा, जो अभ्यर्थी 29 अक्टूबर, 2020 विज्ञापन के बाद आवेदन कर चुके हैं, उन्हें अपना पुराना पंजीकरण संख्या प्रविष्ट करने पर शुल्क नहीं देना होगा। वे उसी पद व विषय के लिए फिर से आवेदन करें। ऐसे अभ्यर्थियों की तादाद बड़ी संख्या में है।