पंचायत चुनाव में कई सीटों का बदल जाएगा आरक्षण, कहीं खुशी कहीं गम

प्रयागराज : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का आरक्षण फिर नए सिरे से होगा। अब तक किया गया आरक्षण रद कर दिय गया है। नए सिरे से आरक्षण होने पर कई सीटों में बदलाव हो जाएगा। आरक्षण होने के बाद जो लोग खुशी मना रहे थे, अब वह आशंकित हैं। अब 2015 के चुनाव के आधार पर आरक्षण करने का आदेश आने के बाद जिला प्रशासन प्रक्रिया शुरू करेगा।


पूर्व में प्रदेश सरकार से आई गाइडलाइन के मुताबिक आरक्षण हो चुका था। आरक्षण की आपत्तियां निपटाने का काम चल रहा था कि उस पर रोक लग गई। अब हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2015 के आधार पर आरक्षण करने का आदेश दिया है। इस आदेश के बाद जिले के आरक्षण में काफी बदलाव हो जाएगा। जिला पंचायत से लेकर ग्राम पंचायत सदस्य तक के आरक्षण अब बदलेंगे। अभी के आरक्षण से जो लोग खुश हो रहे थे, उनमें से कई को निराश भी होना पड़ सकता है। सबसे ज्यादा बदलाव प्रधान पद के लिए होगा। वैसे यहां पर प्रधान पद के लिए आपत्तियां भी खूब आई थी। जिले भर की कुल सीटों में से आधी में आपत्तियां आई थी। उसमें से कई ने 2015 को आधार मानने की मांग की थी। ऐसे में हाइकोर्ट का आदेश आने के बाद इन लोगों की तो चांदी हो गई है। गाइडलाइन जारी होने के बाद उसके अनुसार आरक्षण करने और आपत्तियां निस्तारित करने में पखवाड़े भर का समय लग जाएगा। इसलिए चुनाव अब 25 मई तक जाएगा और भीषण गर्मी में ग्रामीण परेशान होंगे। जिला पंचायत राज अधिकारी रेनू श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेश सरकार से जो गाइडलाइन आएगी, उसकी के अनुसार आरक्षण किया जाएगा।