यूनिफॉर्म, जूते-मोजे और बैग खरीदने के लिए 1100 रुपये:- बेसिक शिक्षा विभाग की तैयारी, अभिभावक के खाते में भेजेंगे राशि


लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूली बच्चों को यूनिफॉर्म, जूते-मोजे और बैग देने के बजाय इसे खरीदने के लिए नकद राशि अभिभावकों के बैंक खाते में हस्तांतरित कराने की तैयारी है। शैक्षिक सत्र 2021-22 के लिए बेसिक शिक्षा विभाग में सैद्धांतिक सहमति बनने के बाद कैबिनेट की मंजूरी के लिए प्रस्ताव भेजा जा रहा है।




प्रत्येक विद्यार्थी को दो जोड़ी यूनिफॉर्म के लिए 600 रुपये, बैग, स्वेटर, जूते-मोजे के करीब पांच सौ रुपये प्रति विद्यार्थी मिलेंगे। यही वजह है कि शासन ने अभी तक इन सामग्री के टेंडर करने की अनुमति नहीं दी है। अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने बताया कि राशि डीबीटी से देने पर सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है । अब इसका कैबिनेट नोट तैयार कर मंजूरी के लिए सरकार को भेजा जा रहा है।

गौरतलब है कि परिषद के 1.60 करोड़ विद्यार्थियों को प्रति वर्ष यूनिफॉर्म, जूते-मोजे, बैग और स्वेटर निशुल्क दिए जाते हैं। बीते चार वर्षों में समय पर राशि उपलब्ध कराने के बाद भी विभागीय स्तर पर लेटलतीफी के चलते यह विद्यार्थियों को समय पर उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। खराब गुणवत्ता की भी शिकायतें मिलती हैं। इसे देखते हुए नई व्यवस्था लागू करने की तैयारी है।