कोविड-19 की दूसरी लहर का कहर अब नीट-पीजी परीक्षा पर, नीट पीजी की भी परीक्षा स्थगित

नई दिल्ली: वैश्विक महामारी कोविड-19 की दूसरी लहर का कहर अब नीट-पीजी परीक्षा पर भी पड़ा है। केंद्र सरकार ने नीट (नेशनल एलिजविलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) की पोस्ट ग्रेजुएट परीक्षा को स्थगित करने की घोषणा की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि 18 अप्रैल दिन रविवार को अब यह परीक्षा नहीं होगी।


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने गुरुवार को ट्वीट करके बताया कि कोरोना संक्रमण की तेज रफ्तार को देखते हुए केंद्र सरकार ने यह फैसला लिया है। साथ ही कहा कि नीट पीजी की अगली तारीखों का एलान बाद में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की तेज रफ्तार के बीच परीक्षा कराना पूरी तरह से असुरक्षित था। युवा मेडिकल छात्रों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। स्थितियों के सामान्य होने पर परीक्षा की अगली तारीखें घोषित की जाएंगी। फिलहाल यह परीक्षा ऑफलाइन मोड में आयोजित होनी थी। इनमें मास्टर डिग्री के लिए मेडिकल छात्र शामिल होते हैं। ध्यान रहे कि परीक्षा में शामिल होने वाले मेडिकल छात्रों का कहना था कि देश में वायरस की वजह से पैदा हुए हालात देखते हुए आगामी नीट परीक्षा को स्थगित कर देना चाहिए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मेडिकल छात्रों ने ट्विटर पर हैशटैग नीट21पीजी परीक्षा स्थगित करो का अभियान भी चलाया है। इसके अलावा कुछ दिन पहले, उम्मीदवारों के एक ग्रुप ने परीक्षा कराने वाली संस्थान ने एनबीई को पीजी मेडिकल प्रवेश परीक्षा को स्थगित करने के लिए लिखा था।