‘परिषदीय स्कूलों के शिक्षक व शिक्षामित्र 20 मई तक घर से करें काम’, प्रशासनिक व अन्य आवश्यक कार्यो का दायित्व भी निभाना होगा

 प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशकों को बड़ी राहत मिली है। वे अब 20 मई तक विभागीय कार्य घर से कर सकेंगे। इसी के साथ गर्मी की छुट्टी के लिए स्कूल बंद हो जाएंगे। यह निर्देश बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश कुमार द्विवेदी ने कोविड-19 की वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए दिया है। 19 अप्रैल को जारी आदेश में 30 अप्रैल तक घर से कार्य करने (वर्क फ्रॉम होम) की सुविधा दी गई थी, उसे बढ़ा दिया गया है। इस संबंध में परिषद सचिव प्रताप सिंह बघेल ने सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किया है।


मंत्री डा. द्विवेदी ने कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्कूलों में शिक्षण कार्य पहले ही बंद कर दिए गए थे लेकिन, वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए शिक्षकों, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों को भी घर से काम करने की सुविधा 20 मई तक बरकरार रहेगी। यह जरूर है कि उन्हें प्रशासनिक और अन्य आवश्यक कार्यो में दिए जाने वाले दायित्वों को निभाना होगा। परिषद सचिव ने बीएसए को भेजे आदेश में कहा है कि प्रदेश में पहले कक्षा एक से आठ तक के सभी स्कूलों का 30 अप्रैल तक शिक्षण कार्य बंद किए जाने के आदेश दिए गए थे। वह अब 20 मई तक लागू रहेगा। ऐसे में छात्र-छात्रएं पहले से ही विद्यालय नहीं आ रहे थे, केवल शिक्षक व अन्य स्टाफ प्रशासकीय कार्य कर रहे थे।

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए बढ़ाई मियाद

प्रशासनिक व अन्य आवश्यक कार्यो का दायित्व भी निभाना होगा