बीएसए नहीं भेज रहे 69000 भर्ती के रिक्त पद, बेसिक शिक्षा परिषद सचिव ने तीन पत्र भेजकर मांगी थी संख्या 23 मार्च को बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिए थे निर्देश, अभ्यर्थी परेशान

प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों की 69000 शिक्षक भर्ती पूरा होने का नाम ले रही है। जिलों में करीब पांच हजार से अधिक पद खाली रह गए हैं। बीएसए अधिकृत रिक्त पदों की संख्या नहीं भेज रहे हैं, जबकि परिषद सचिव प्रताप सिंह बघेल अब तक तीन पत्र लिख चुके हैं। इतना ही नहीं शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश द्विवेदी ने 23 मार्च को ही इस संबंध में निर्देश दिया था।


69000 शिक्षक भर्ती करीब दो साल से लेटलतीफी का शिकार है। दो चरणों में काउंसिलिंग कराकर अभ्यर्थियों को नियुक्ति दी, फिर भी लगभग चार हजार पद विभिन्न वर्गो में खाली हैं। साथ ही 1133 अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थी मिले ही नहीं, इन पदों को अनुसूचित जाति में बदलकर चयन किया जाना है। इस भर्ती की लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने वालों की तादाद 1.46 लाख रही है ऐसे में हजारों योग्य अभ्यर्थी चयन सूची की राह देख रहे हैं। महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने प्रयागराज दौरे में कहा था कि तीसरे चरण की काउंसिलिंग कराकर रिक्त पद भरे जाएंगे। वहीं, शिक्षा राज्यमंत्री ने भी इस संबंध में निर्देश दिए हैं।

परिषद सचिव ने जिला चयन कमेटी को रिक्त पदों का विवरण उपलब्ध कराने के लिए 25 मार्च, 30 मार्च और 05 अप्रैल को तीन पत्र बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भेजा है। बार-बार आदेश के बाद भी अफसर सूचना नहीं दे रहे हैं। जिलों में हजारों अभ्यर्थी अधिकारियों से संपर्क करके सूची को शीघ्र भेजने का अनुरोध कर रहे हैं। परिषद मुख्यालय का कहना है कि कुछ जिलों ने सूचनाएं भेजी हैं, सभी जिलों से मिलने का इंतजार किया जा रहा है।