जल निगम में शीघ्र होगी 740 अभियंताओं की भर्ती

लखनऊ : जल निगम बंद किए जाने की अटकलों को दरकिनार करते हुए निगम ने 740 अभियंताओं व लिपिक संवर्ग के 100 पदों पर भर्ती के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा है। अभियंताओं की भर्तियां उप्र लोक सेवा आयोग करेगा, जबकि लिपिकों की भर्ती उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से होगी।


जल निगम के कुल 13,317 पदों में 4300 पद खाली चल रहे हैं। इसमें ज्यादातर अभियंताओं, लिपिकीय वर्ग व वित्त विभाग के पद हैं। सबसे ज्यादा कमी जूनियर इंजीनियरों की है। उनके कुल 2517 पदों में 1544 पद खाली हैं। सहायक अभियंताओं के 797 पदों में 209 खाली हैं। अधिशासी अभियंता के 194 में 88 व अधीक्षण अभियंताओं के 151 में 116 पद रिक्त हैं। अगले पांच वर्षो में 2045 पद और रिक्त हो जाएंगे। जल निगम के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार के अनुसार तकनीकी स्टाफ की कमी पूरी करने के लिए वर्ष 2021-22 के लिए सहायक अभियंता (सिविल) के 80 व सहायक अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) के 18, अवर अभियंता (सिविल) के 518 व अवर अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) के 124 पदों को मिलाकर कुल 740 पदों पर व कनिष्ठ सहायक संवर्ग में मुख्यालय के रिक्त 65 पदों तथा क्षेत्रीय संवर्ग के रिक्त 35 यानी कुल 100 पदों पर भर्ती का प्रस्ताव भेजा गया है।

पदों पर लिपिक संवर्ग के भी होगी भर्ती, निगम ने शासन को भेजा प्रस्ताव

विभिन्न विभागों पर निगम का 1846 करोड़ रुपये बकाया

अनिल कुमार के अनुसार जल निगम का विभिन्न विभागों पर 1846 करोड़ रुपये सेंटेज का बकाया है। पिछले दिनों 229.01 करोड़ रुपये मिले थे। 214.62 करोड़ रुपये से कर्मचारियों के बकाए वेतन व पेंशन का भुगतान किया गया। दिसंबर तक का बकाया वेतन व पेंशन का भुगतान हो गया है। शेष तीन माह का भुगतान भी शीघ्र कर