93 गैरहाजिर कर्मचारियों पर दर्ज होगी एफआईआर, डीएम ने मतपेटी से लेकर सूची तक की बारीकियों की दी जानकारी


बहराइच। पंचायत चुनाव को देखते हुए शनिवार को कर्मचारियों का प्रशिक्षण जारी रहा। दूसरे दिन दो पॉलियों में प्रशिक्षण हुआ। डीएम ने मतपेटिका को सील करने से लेकर मतदाता सूची की बारीकियों तक की जानकारी कर्मचारियों को दी। पहली पाली में 12 पीठासीन अधिकारी समेत 52 व दूसरी पाली में 8 पीठासीन अधिकारियों समेत 41 कर्मी नदारद रहे। इन पर केस दर्ज करने का आदेश डीएम ने दिया है।


पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों का प्रशिक्षण दूसरे दिन भी जारी रहा। जिला निर्वाचन अधिकारी शंभु कुमार ने मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना के साथ केडीसी स्थित कमरों का निरीक्षण कर मतदान कर्मचारियों को प्रदान किये जा रहे प्रशिक्षण का जायजा लिया उन्होंने कर्मियों को निर्देश दिया कि प्रशिक्षण कक्ष में किसी प्रकार झिझक व शर्म न दिखाएं। यदि कोई बात एक बार में समझ में नहीं आ रही है तो बार-बार मास्टर ट्रेनर्स से पूछे। सभी लोग पूरी तरह दक्ष होकर की प्रशिक्षण कक्ष से बाहर जाएं सभी मतदान कर्मी अपनी सभी आशंकाओं का समाधान करने के पश्चात प्रशिक्षण कक्ष छोड़ेंगे उन्होंने सभी मतदान कर्मियों से अपेक्षा की कि प्रशिक्षण के दौरान आप में इतनी परिपक्वता आ जाए कि मतदान के दिन यदि कोई दिक्कत भी करना है। डीएम ने मतदान कार्मिकों का आह्वान किया कि पूरे मनोयोग के साथ प्रशिक्षण प्राप्त करें। दूसरे दिन पहली पाली में 12 पीठासीन अधिकारियों समेत 52 और दूसरी पाली में आठ पीठासीन अधिकारियों समेत 41 कर्मचारी नदारद रहे। इन सभी के खिलाफ केस दर्ज करने का डीएम ने आदेश जारी किया है । इस मौके पर नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार सिंह, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सूरज पटेल, जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, पीडी अनिल कुमार सिंह, डीसी मनरेगा केडी गोस्वामी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।