एसबीआइ ने होम लोन की दरें बढ़ाईं, अब यह होंगी नई दरें

 देश के सबसे बड़े कर्जदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) ने ग्राहकों के अपने घर का सपना महंगा कर दिया है। बैंक ने होम लोन पर ब्याज दर बढ़ाकर 6.95 फीसद कर दिया है। नई दरें पहली अप्रैल से प्रभावी हो गई हैं। बैंक की सबसे सस्ती होम लोन दर 6.70 फीसद थी, जिस दर पर कर्ज लेने की अवधि 31 मार्च को खत्म हो गई। बैंक के मुताबिक इसके साथ ही उसकी सबसे सस्ती होम लोन दर का दौर अब खत्म हो चुका है।


देश के सबसे बड़े कर्जदाता ने इससे पहले सीमित अवधि के लिए 75 लाख रुपये तक का होम लोन चुनिंदा माध्यमों से 6.70 फीसद ब्याज पर देने की पेशकश की थी। वहीं 75 लाख से पांच करोड़ रुपये तक के होम लोन पर ब्याज दर 6.75 फीसद निर्धारित की गई थी। अपनी वेबसाइट पर एक सूचना के माध्यम से बैंक ने कहा कि 6.95 फीसद की नई ब्याज दर पहली अप्रैल से प्रभावी हो गई है।

नई दरें सीमित अवधि की पेशकश की तुलना में 0.25 फीसद अधिक हैं। जानकारों का कहना है कि एसबीआइ द्वारा होम लोन की न्यूनतम दरों को बढ़ाए जाने के बाद अन्य बैंक भी इस दिशा में कदम उठा सकते हैं। एसबीआइ ने होम लोन पर प्रोसेसिंग शुल्क लेना भी फिर से शुरू कर दिया है। यह कर्ज की राशि का 0.40 फीसद होगा, जिसके ऊपर जीएसटी लिया जाएगा। बैंक के मुताबिक प्रोसेसिंग शुल्क न्यूनतम 10,000 रुपये और अधिकतम 30,000 रुपये (जीएसटी को छोड़कर) होगा।