सेवा नियमावली में संशोधन के खिलाफ हो रहे लामबंद



लखनऊ। व्यावसायिक शिक्षा विभाग की ओर से प्रस्तावित अनुदेशक-कार्यदेशक सेवा नियमावली में संशोधन के खिलाफ


औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कर्मचारी संघ ने विरोध जताया है। संघ ने चेतावनी दी है कि यदि मनमाने ढंग से नियम विरुद्ध संशोधन किया गया तो प्रदेश भर के कर्मचारी आंदोलन करने को बाध्य होंगे। संघ के अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने बताया कि सेवा नियमावली में प्रस्तावित संशोधन में कार्यदेशक और अनुदेशक पर बीटेक डिग्रीधारी को प्रोन्नति में 25 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया जा रहा है। इसके लिए अनुदेशक पद पर कार्य की अवधि दस वर्ष की जगह पांच वर्ष किया जाना व एक साथ नियुक्त अनुदेशकों को शैक्षणिक योग्यता के आधार पर पदोन्नति में आरक्षण का लाभ देना असांविधानिक है।