पुरानी पेंशन और कैशलेस इलाज के लिए कर्मचारी व शिक्षक करेंगे आंदोलन


लखनऊ। पुरानी पेंशन व्यवस्था की बहाली, कैशलेस चिकित्सा सुविधा, वेतन विसंगति और रोके गए भत्तों की बहाली को लेकर प्रदेश के कर्मचारियों, शिक्षकों, अधिकारियों, पेंशनर्स संगठनों ने आंदोलन का एलान किया है। कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच के अध्यक्ष डॉ. दिनेश चंद्र शर्मा की अध्यक्षता में रविवार को हुई बैठक में तय किया गया है कि अप्रैल-मई में ब्लॉक स्तर पर बैठक और जिलास्तर पर समितियों के गठन के बाद जून में पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा।


बैठक में तय किया गया कि अगर जरूरत पड़ी तो हड़ताल भी की जाएगी। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार ने ही कर्मचारियों को कैशलेस चिकित्सा सुविधा को पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा सुविधा का नाम दिया था। लेकिन, कुछ ही दिनों में योजना ठंडे बस्ते में डाल दी गई। बैठक का संचालन मंच के प्रधान महासचिव सुशील कुमार त्रिपाठी ने किया। बैठक में मंच के उपाध्यक्ष सतीश कुमार पांडेय, रामराज दुबे, डिप्लोमा इंजीनियर्स महासंघ के पूर्व अध्यक्ष एसपी मिश्रा, प्राथमिक शिक्षक संघ के महामंत्री संजय सिंह, उद्यान से अविनाश चंद्र श्रीवास्तव समेत विभिन्न संगठनों के लोग शामिल हुए।