वेबसाइट पर ही होगी आपत्ति और निस्तारण: कॉलेजों को मान्यता देने की प्रक्रिया पारदर्शी, एनआइसी कर रहा संशोधन, जल्द शुरू होंगे ऑनलाइन आवेदन

 प्रयागराज : यूपी बोर्ड लगातार नई तकनीक के साथ कदमताल कर रहा है। नए कालेजों को कक्षा 9 से 12वीं तक की मान्यता देने की प्रक्रिया में इस बार बदलाव हो रहा है। अब वेबसाइट पर ही कालेजों के संबंध में आपत्तियां ली जाएंगी और उसी पर संबंधित विभागों को निस्तारण भी करना होगा। इसके लिए वेबसाइट में बदलाव किया जा रहा है, इसीलिए आवेदन अभी तक शुरू नहीं हो सका है। इसी माह से ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे।


माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) में नए कालेजों को मान्यता देने के लिए ऑनलाइन आवेदन इधर कई वर्ष से लिए जा रहे हैं। साथ ही बोर्ड की वेबसाइट पर मान्यता पाने वाले कालेजों की सूची का प्रकाशन भी होता रहा है लेकिन, संबंधित कालेजों के संबंध में मिलने वाली आपत्तियां व उनका निस्तारण पिछले वर्ष तक ऑफलाइन ही होता रहा है। शासन को गड़बड़ियों की शिकायतें भी मिलीं, इसे देखते हुए निर्णय लिया गया कि इस प्रक्रिया को पूरी तरह से पारदर्शी कर दिया जाए। आवेदन वाली वेबसाइट पर ही आपत्तियां प्रदर्शित होंगी और सभी विभाग कालेजों के संबंध में मिली आपत्तियों का निस्तारण भी ऑनलाइन करेंगे। बदलाव का जिम्मा बोर्ड प्रशासन व एनआइसी को दिया है, दोनों इन दिनों वेबसाइट में संशोधन कर रहे हैं।

बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ल ने बताया कि इसी माह से बदली व्यवस्था के तहत ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे, साथ ही मान्यता देने की नई समय सारिणी जारी की जाएगी।