अध्यापक पुरस्कार सूची से नाम काटने पर जांच की मांग


राज्य अध्यापक पुरस्कार की सूची से छह महीने बाद नाम कटने को लेकर शिक्षकों में गुस्सा है। उन्होंने इस मामले में मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप करने का अनुरोध करते हुए जांच की मांग की है।

यह है मामलाः सितम्बर 2020 में एंग्लो बंगाली इंटर कॉलेज प्रयागराज के प्रवक्ता आशीष कुमार श्रीवास्तव को राज्य अध्यापक पुरस्कार से सम्मानित किया गया था लेकिन 27 मार्च 2021 में उनसे यह पुरस्कार वापस लेते हुए सीएवी इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डा. त्रिभुवन प्रसाद पाठक को सम्मानित किया गया है।


मंडलीयसमिति में छंटनी होगयाथा त्रिभुवनकानामःऑनलाइन आवेदन व तीन स्तरों की कमेटी से मेरिट, साक्षात्कार व प्रस्तुतिकरण के बाद पुरस्कारों की घोषणा की जाती है लेकिन इस तरह से नए नए शिक्षक को पुरस्कृत करना शिक्षकों के गले नहीं उतर रहा। सूत्रों के मुताबिक, सितम्बर में घोषित हुए पुरस्कारों के चयन के लिए त्रिभुवन प्रसाद पाठक का नाम मंडलीय समिति ने नहीं भेजा था । वित्तविहीन शिक्षक महासभा के महासचिव अजय सिंह के अनुसार निश्चित रूप से जल्दबाजी में नाम बदलना आश्चर्य का विषय है। उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश मंत्री आरपी मिश्र के अनुसार सरकार का यह कृत्य समझ से बाहर है।