संस्कृत विद्यालयों में लागू होगा एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम, कम्प्यूटर शिक्षा भी होगी लागू

प्रदेश में शैक्षिक सत्र 2021-22 से संस्कृत विद्यालयों में कक्षा 6 से 8 तक में भी राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद का पाठ्यक्रम लागू किया जाएगा। वर्तमान में कक्षा 9 से 12 तक में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम लागू है। संस्कृत विद्यालय के विद्यार्थियों को अंग्रेजी के साथ कम्प्यूटर की शिक्षा भी दी जाएगी।



प्रदेश सरकार के प्रवक्ता के अनुसार प्रदेश में अभी 1164 संस्कृत विद्यालय हैं। इनमें 97,500 से अधिक विद्यार्थी हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर बेसिक शिक्षा की तर्ज पर संस्कृत विद्यालयों में कक्षा 6 से 8 तक एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अब तक 72 जिलों के संस्कृत विद्यालयों में कम्प्यूटर लगाए जा चुके हैं। वहीं,  इस साल भी उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान की ओर से प्रदेश के शेष विद्यालयों को कम्प्यूटर सुविधा उपलब्ध कराई गई है। कम्प्यूटर के साथ पुस्तकें, अलमारी और टेबल भी दिए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार ने 200 से अधिक गुरुकुल पद्धति के संस्कृत विद्यालयों के 4 हजार से अधिक छात्रों को निशुल्क भोजन व छात्रावास की सुविधा देने की भी घोषणा की है।