मृतक परिजनों को तत्काल मुआवजा, रिक्त पदों पर भर्ती करें सरकार : महासंघ



। उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष रामराज दुबे और महामंत्री सुरेश सिंह यादव ने इस आपातकाल जैसी स्थिति में रिक्त पड़े लाखों पदों पर तत्काल भर्ती और कोरोना संक्रमण में असमय मृत्यु का शिकार हुए सरकार सेवकों तथा पत्रकार परिजनों को तत्काल 50 लाख रूपये मुआवजा दिए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि एक तरफ चिकित्सा सेवा, नगर निगमों, नगर पालिकाओं तथा अन्य आपात सेवा में लगे विभागों में भारी संख्या में पद रिक्त होने के कारण वर्तमकान समय में कर्मचारियों पर काम का दबाव कई गुना है। रामराज दुबे और सुरेश सिंह यादव की तरफ से कहा गया कि अस्पतालों एवं सरकारी विभागों में लाखों की संख्या में अस्थाई पद रिक्त हैं उनको तत्काल नियुक्ति की जाएगी चाहिए जिससे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य एवं राजस्व जैसे विभागों में बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि यह जिम्मेदारी के पद हैं और रेगुलर नियुक्ति होने से अपनी जिम्मेदारी के साथ कार्य करते हैं। ऐसी स्थिति में
आउटसोर्सिंग व्यवस्था पूर्ण रूप से लाचार है। हम संयुक्त रूप से प्रधानमंत्री जी से मुख्यमंत्री जी से अपील करते कि रिक्त पदों को भरने के आदेश जारी किए जाएं। उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी महासंघ बृजेश यादव वरिष्ठ पत्रकार के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए उनके अन्य कई वरिष्ठ पत्रकार परिजनों को परिवार को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाना चाहिए। प्रदेश महामंत्री सुरेश सिंह यादव ने यह भी मांग की है कि पंचायत चुनाव को तुरंत निरस्त किया जाना चाहिए। उन्होंने पत्र लिखकर मुख्यमंत्री जी एवं माननीय राजपाल महोदय एवं माननीय प्रधानमंत्री जी से अपील की है कि पंचायत चुनाव तुरंत निरस्त कर दिया जाना चाहिए । जैसा कि विदित हो कि कई कर्मचारी ड्यूटी के दौरान या ड्यूटी के दौरान या आने के बाद मृत्यु हो चुकी हैं। कर्मचारियों और अधिकारियों एवं पत्रकार बंधुओं के लिए भी कोई ऐसा अस्पताल निर्धारित हो जिसमें आपातकालीन स्थिति में वह तुरंत इलाज मिल सके।