बेसिक शिक्षक संघ ने स्कूल शिक्षा महानिदेशक से RTE 2009 के तहत निजी स्कूलों को शुल्क प्रतिपूर्ति जल्द कराने की मांग की


शुल्क प्रतिपूर्ति का भुगतान जल्द कराएं


लखनऊ। बेसिक शिक्षक संघ ने स्कूल शिक्षा महानिदेशक से निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के तहत निजी स्कूलों को शुल्क प्रतिपूर्ति जल्द कराने की मांग की है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष दुर्गाचरन सिन्हा ने बताया कि आरटीई के तहत प्रत्येक बच्चे के 5400 रुपये शुल्क प्रतिपूर्ति की जाती है। इसी प्रकार अभिभावकों के खाते में पाठ्यपुस्तक एवं यूनिफॉर्म के लिए 5000 रुपये जमा कराए जाते है। उन्होंने बताया कि लंबे समय से शुल्क प्रतिपूर्ति और किताबों का भुगतान नहीं हुआ है। महानिदेशक ने संघ के प्रतिनिधि मंडल को बताया कि कुछ विद्यालयों में आवंटित छात्रों का सत्यापन कराया जाना है। सत्यापन होने के बाद जल्द भुगतान कर दिया जाएगा