40 हजार छात्रों ने चलाई थी बोर्ड परीक्षा रद करने की मुहिम


नई दिल्ली: बारहवीं की परीक्षा के रद होने के पहले सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने वाली युवा महिला वकील

ममता शर्मा ने बताया कि पहले पहल कुछ ही छात्र उनके पास आए थे, लेकिन फिर इंटरनेट मीडिया जैसे गूगल, ट्विटर इत्यादि के जरिये 40 हजार छात्र जुड़ गए थे। वकील ममता शर्मा ने रविवार को बताया कि एक विशेष दल ने सुप्रीम कोर्ट में तीन मई को याचिका दायर की है। पांच मई को दिल्ली में कोविड-19 के संक्रमण के बीच दोबारा याचिका दायर की गई है। उन्होंने खुद सुप्रीम कोर्ट जाकर याचिका के बारे में जानकारी हासिल की। इस वकील ने 7224 लोगों को रजिस्ट्री के लिए बुलाया और इंटरनेट मीडिया पर लोगों से समर्थन मांगा।