डीआइओएस ने स्कूलों से मांगा शुल्क का विवरण

प्रयागराज : जिला विद्यालय निरीक्षक ने सभी स्कूलों से विद्यार्थियों से ली जाने वाली फीस का विस्तृत ब्योरा मांगा है। कहा है कि किस मद में कितनी फीस ली जा रही है, अलग अलग बताएं। शासन के निर्देश के अनुसार जो फीस माफ की गई है उसे भी बताना होगा।


जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा ने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार शासन ने सभी स्कूलों को फीस न बढ़ाने का निर्देश दिया है। कहा है कि कोई भी विद्यालय सिर्फ शिक्षण शुल्क लेंगे। वह पुस्तकालय शुल्क, कम्प्यूटर शुल्क, बिजली शुल्क, क्रीड़ा शुल्क, पंखा शुल्क, प्रयोगशाला शुल्क सरीखे किसी भी तरह का वह शुल्क नहीं लेंगे जिनका प्रयोग विद्यार्थी नहीं कर रहे हैं। बावजूद इसके सभी स्कूलों की ओर से वही शुल्क लिया जा रहा है जो पिछले वर्ष लिया जाता था। इस संबंध में कई अभिभावकों ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई है। कहा है कि, शुल्क बढ़ोत्तरी तो नहीं हुई लेकिन शासन की ओर से जो शुल्क माफ करने का निर्देश है वह विद्यालय नहीं माफ कर रहे हैं।

जितनी फीस पिछले वर्ष ली गई थी, वही फीस इस बार भी मांगी जा रही है। स्कूल की तरफ से फीस की जो रसीद दी जा रही है, उसमें भी अगल अलग नहीं बताया जा रहा कि किस मद में क्या फीस ली गई। अभिभावकों का कहना है कि कोई भी विद्यालय शासन के आदेश को नहीं मान रहा है। इसी क्रम में स्कूलों से शुल्क का विस्तृत ब्योरा देने के लिए निर्देशित किया गया है।