उत्तर प्रदेश ने स्कूली शिक्षा में अपना प्रदर्शन सुधारा, शिक्षा मंत्रालय ने परफारमेंस ग्रेडिंग इंडेक्स जारी किया

नई दिल्ली : स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में सुधार के लिए उठाए गए कदमों का असर दिखने लगा है। शिक्षा मंत्रलय की ओर से स्कूली शिक्षा में होने वाले बदलावों को लेकर जारी परफारमेंस ग्रे¨डग इंडेक्स से यह बात सामने आई है। उत्तर प्रदेश ने अपने पिछले प्रदर्शन में अच्छा सुधार किया है। रिपोर्ट में पंजाब, चंडीगढ़, तमिलनाडु, केरल व अंडमान-निकोबार शीर्ष पर रहे। यहां स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में तेजी से बदलाव देखा गया है।


स्कूली शिक्षा में होने वाले बदलावों का अध्ययन करने के लिए शिक्षा मंत्रलय की ओर से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों का हर साल परफारमेंस ग्रे¨डग इंडेक्स (पीजीआइ) तैयार किया जा रहा है। इस कड़ी में मंत्रलय ने रविवार को वर्ष 2019-20 का इंडेक्स जारी किया है। ताजा रिपोर्ट स्कूली शिक्षा से जुड़ी गतिविधियों का 70 मानकों पर तैयार की गई है। उत्तर प्रदेश ने अपने पिछले प्रदर्शन में करीब बीस फीसद का सुधार किया है। रिपोर्ट की चौथी कैटेगरी में आंध्र प्रदेश, बंगाल, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, त्रिपुरा, ओडिशा शामिल हैं।

’>>शिक्षा मंत्रालय ने  परफारमेंस ग्रेडिंग इंडेक्स जारी किया

’>>पंजाब, चंडीगढ़, केरल, तमिलनाडु और अंडमान-निकोबार शीर्ष पर