बदलाव: यूपी बोर्ड में अब इंग्लिश में टैगोर-राधाकृष्णन की रचनाएं नहीं पढ़ेंगे यूपी बोर्ड 12वीं के छात्र

यूपी बोर्ड इंटर के छात्र इस सत्र से नोबल पुरस्कार विजेता साहित्यकार रविन्द्रनाथ टैगोर और पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एस. राधाकृष्णन की लिखी रचनाएं नहीं पढ़ेंगे। बोर्ड ने इस साल से 10वीं और 12वीं अंग्रेजी में एनसीईआरटी का कोर्स लागू कर दिया है। 12वीं में टैगोर की कहानी द होम कमिंग, डॉ. एस. राधाकृष्णन का निबंध द वुमेन्स एजूकेशन, एएल बाशम का द हेरिटेज ऑफ इंडिया आदि पाठ हटा दिए गए हैं। 


12वीं में ही आरके नारायणन की कहानी एन एस्ट्रोलाजर्स डे व मुल्क राज आनंद की कहानी द लॉस्ट चाइल्ड कोर्स से हटाई गई है। जॉन मिल्टन व पीबी शेली जैसे बड़े कवि भी 1 नहीं पढ़ाए जाएंगे। 10वीं में सरोजनी नायडू की कविता द विलेज सॉन्ग हटा दी गई है। 10वीं के प्रोज में सी. राजगोपालाचारी, डब्ल्यूएम रायबर्न तथा आर. श्रीनिवासन के पाठ भी हटाए गए हैं।

किताबें भी हुईं कम
यूपी बोर्ड के 12वीं में व्याकरण को छोड़कर चार किताबें थीं लेकिन अब एनसीईआरटी का कोर्स लागू होने पर दो किताबें फ्लेमिंगो व विस्टास पढ़ाई जाएगी। वहीं, हाईस्कूल में पहले भी दो किताबें थीं, अब भी दो किताबें 'फर्स्ट फ्लाइट' तथा 'फुटप्रिंट्स विदाउट फीट' पढ़ाई जाएगी।

2वीं में अब क्या पढ़ाया जाएगा
फ्लेमिंगो में अनीस जंग की लास्ट स्प्रिंग, विलियम डगलस का डीप वाटर तथा लुइस फिशर का 'इंडिगो' जो 'द लाइफ ऑफ महात्मा गांधी' से लिया गया है, जैसे पाठ पढ़ाए जाएंगे। पोएट्री में कमला दास, पाब्लो नेरुदा और जॉन कीट्स की कविताएं पढ़ाई जाएंगी। विस्टास सप्लीमेंट्री में पर्ल एस. बक का 'द एनमी', तिशानी दोषी, जॉन अपडाइक तथा काल्की जैसे लेखकों के पाठ शामिल किए गए हैं।

10वीं में क्या नया पढ़ेंगे बच्चे
फर्स्ट फ्लाइट के प्रोज सेक्शन में अफ्रीका के राष्ट्रपति रहे नेल्सन मंडेला, एन. फ्रैंक तथा एंटन चेखोव को पढ़ाया जाएगा। पोएट्री सेक्शन में रॉबर्ट फ्रॉस्ट, वाट व्हिटमैन तथा विलियम बटलर येट्स कवियों को शामिल किया है। सप्लीमेंट्री बुक में रस्किन बॉन्ड, राबर्ट आर्थर, एचजी वेल्स तथा केए अब्बास की रचनाएं पढ़ाई जाएंगी।
 
इनका कहना है
एनसीईआरटी का सिलेबस अच्छा है छात्रों को कुछ पाठ वर्तमान की समस्याओं से संबंधित पढ़ाए जाएंगे तो कुछ में भारत के अतीत की जानकारियां हैं। नए पाठ्यक्रम से छात्रों के व्यक्तित्व का बहुआयामी विकास होगा। 
राजू यादव, प्रवक्ता अंग्रेजी, बीएनटी इंटर कॉलेज मेजारोड


यूपी बोर्ड के कक्षा 12 के अंग्रेजी विषय के पाठ्यक्रम में लिटरेचर व ग्रामर का अच्छा संतुलन बनाने का प्रयास किया गया है। यह छात्रों के लिए लाभकारी होगा।
मो. रफीक, प्रवक्ता अंग्रेजी, रामानुज इंटर कॉलेज, कोहड़ार मेजा