सुपर टीईटी की मार्कशीट के साथ फंसी नियुक्ति: 69000 शिक्षक भर्ती की तीसरी काउंसलिंग में शामिल अभ्यर्थियों के लिए बढ़ी मुश्किल


69 हजार शिक्षक भर्ती के तहत चयनित अभ्यर्थियों के तीसरे चरण की काउंसलिंग तो पूरी हो गई, लेकिन बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों के पास सुपर टीईटी की मार्कशीट न होने के कारण उनकी नियुक्ति फंस गई है। वेबसाइट पर मार्कशीट उपलब्ध न होने के कारण अभ्यर्थी परेशान हैं और विभागीय स्तर पर अभ्यर्थियों को राहत देने के लिए अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। 


69 हजार शिक्षक भर्ती के तहत जब पहले और दूसरे चरण में चयनितों की सूची जारी की गई थी, उस वक्‍त काउंसलिंग के दौरान बेसिक शिक्षा परिषद कौ वेबसाइट पर सुपर टीईटी की मार्कशीट भो उपलब्ध थी। ऐसे में अभ्यर्थियों को काउंसलिंग के दौरान मार्कशीट को लेकर कोई दिक्कत नहीं हुईं। अभ्यर्थियों को उम्मीद थी कि अगर तीसरे चरण की सूची जारी होगी, तो बेबसाइट पर मार्कशीट फिर से उपलब्ध करा दी जाएगी, लेकिन इस बार वेबसाइट पर मार्कशीट उपलब्ध नहीं है। मार्कशीट के लिए तमाम अभ्यर्थियों ने सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में संपर्क किया, लेकिन वहां कह दिया गया कि डुप्लीकेट मार्कशीट बनाए जाने का कोई प्रावधान नहीं हैं। बहीं, अलग-अलग जिलों में काउंसलिंग के दौरान मार्कशीट प्रस्तुत न कर पाने वाले अभ्यर्थियों पर दबाव बनाया जा रहा हैं कि एक सप्ताह में मार्कशीट प्रस्तुत करें, जबकि शासनदेशा है कि मार्कशीट न होने की स्थिति में अभ्यर्थियों को तीन माह का बकक्‍त दिया जाए और मार्कशीट उपलब्ध कराने पर ही नियुक्ति पत्र दिया जाए। बेबसाइट पर मार्कशीट उपलब्ध नहीं है और संबंधित विभाग डुप्लीकेट मार्कशीट बनाने के लिए तैयार नहीं हैं। ऐसे में अभ्यर्थियों के सामने कोई रास्ता नहीं बचा है और वे इधर-उधर भटक रहे हैं।