विशेषज्ञों की सलाह, पहले प्राइमरी स्कूल खोले जाएं, बच्चों को खतरा कम


चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना संक्रमण में कमी आने पर सबसे पहले प्राइमरी स्कूल खोले जाने चाहिए। क्योंकि छोटे बच्चों में कोरोना के संक्रमण का खतरा कम है और संक्रमण होने पर हल्का रहता है। आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गवन के एक प्रश्न के उत्तर में यह बात कही।


उन्होंने कहा कि प्राइमरी स्कूल पहले खोल जाने चाहिए। क्योंकि बच्चों में रिसिप्टर कम होते हैं इसलिए उन्हें संक्रमणका खतरा कम है और संक्रमण ज्यादा गंभीर नहीं होता है। लेकिन स्कूल खोलने से पूर्व सभी शिक्षकों एवं स्कूल में कार्य करने वाले सभी कार्मिकों, बस स्टाफ आदि का टीकाकरण जरूर होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इसके बाद सेकेंडरी स्कूलों को खोला जाना चाहिए। भार्गव ने कहा कि यह फैसला राज्यों एवं जिला प्रशासन को करना है। जिसमें वहां महामारी की मौजूदा स्थिति को आधार बनाकर फैसला किया जाएगा।