फर्जी टीईटी प्रमाण पत्र लगाकर नौकरी हथियाने वाले दो इनामी बर्खास्त शिक्षक गिरफ्तार

(गोंडा)। फर्जी टीईटी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने वाले 25 हजार के इनामी दो बर्खास्त शिक्षकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बीईओ परसपुर ने इन शिक्षकों के ऊपर स्थानीय थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।


सोमवार को स्थानीय पुलिस ने दो बर्खास्त शिक्षकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। परसपुर शिक्षा क्षेत्र के प्राइमरी स्कूल चंगेरी में तैनात रहे शिक्षक श्रीधर व प्राइमरी स्कूल बनुआ में तैनात रहे शिक्षक श्रीराम का टीईटी प्रमाण पत्र फर्जी पाये जाने पर तत्कालीन बीएसए ने इन शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया था। इसके बाद खंड शिक्षा अधिकारी परसपुर दिनेश कुमार मौर्य ने बीती तीन अप्रैल 2021 को स्थानीय थाने में बर्खास्त शिक्षकों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था।

मुकदमा दर्ज होने के तीन माह बाद भी पुलिस इन शिक्षकों को गिरफ्तार नहीं कर सकी थी। एसपी ने इन शिक्षकों की गिरफ्तारी पर 25 हजार का इनाम भी घोषित किया था। थानाध्यक्ष करुणाकर पांडेय ने बताया कि पुलिस टीम ने गोरखपुर जिले के थाना कैंट अंतर्गत रानीडीहा निवासी श्रीराम यादव व हरदोई जिले के थाना मल्लाव अंतर्गत बेरियानजीर पुर निवासी श्रीधर को गिरफ्तार किया गया हैं। टीम में एसआई चंद्रभूषण पांडेय, अंकुर वर्मा आदि शामिल रहें।