इविवि: सभी विभागों में रिटायर शिक्षकों को दी जाएगी पुनर्नियुक्ति

प्रयागराज। इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) के अब सभी विभागों में सेवानिवृत्त शिक्षकों को पुनर्नियुक्ति दी जाएगी। पहले केवल नौ विभागों के पूर्व शिक्षकों से ही आवेदन मांगे गए थे, लेकिन अब सभी विभागों के सेवानिवृत्त शिक्षकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। आवेदन की अंतिम तिथि भी 19 जुलाई तक बढ़ा दी गई है। पूर्व शिक्षकों को पुनर्नियुक्ति के आवदेन में अपने बायोडाटा के साथ पिछले पांच वर्षों के अकादमिक कार्यों का भी उल्लेख करना होगा। आवेदन फैकल्टी रिक्रूटमेंट सेल में जमा होंगे।


कोविड के कारण इविवि का सत्र लगातार पिछड़ रहा है और शिक्षकों की संख्या स्वीकृत पदों के मुकाबले आधी भी नहीं रह गई है। कोविड की वजह से शिक्षक भर्ती भी शुरू नहीं हो पा रही है। विश्वविद्यालय अतिथि प्रवक्ताओं के भरोसे चल रहा है। इस वर्ष भी बड़ी संख्या में शिक्षक रिटायर हुए है, जिससे स्थिति और खराब हो गई है। इसी को ध्यान में रखते हुए इविवि प्रशासन ने पहले नौ विभागों अर्थशास्त्र, अंग्रेजी, संस्कृत, विधि, सांख्यिकी, रसायन विज्ञान, जंतु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान और भौतिक विज्ञान विभाग के सेवानिवृत्त शिक्षकों से पुनर्नियुक्ति के लिए आवेदन मांगे थे, जिसकी अंतिम तिथि 12 जुलाई निर्धारित की गई थी।

अब विश्वविद्यालय के सभी विभागों के सेवानिवृत्त शिक्षकों से पुनर्नियुक्ति के लिए आवेदन मांग लिए गए हैं। इविवि की पीआरओ डॉ. जया कपूर ने बताया कि वर्ष 2015 में कार्य परिषद की ओर से पारित यूजीसी के पुनर्नियुक्ति से संबंधित नियमों के तहत आवेदन मांगे गए हैं। जो शिक्षक रिटायर हो गए हैं, लेकिन उनका स्वास्थ्य ठीक है और अकादमिक रूप से सक्रिय हैं, ऐसे शिक्षकों की पुनर्नियुक्ति की जाएगी, ताकि छात्रों को उनके अनुभव का लाभ मिलता रहे। शिक्षकों को प्राप्त अंतिम वेतन से पेंशन की धनराशि की कटौती करके भुगतान किया जाएगा।
परीक्षा नियंत्रक सहित तीन पदों के लिए आवेदन 13 तक
प्रयागराज। इविवि में नॉन टीचिंग के तीन पदों पर भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 13 जुलाई तक बढ़ा दी गई है। इसके तहत परीक्षा नियंत्रक, इंटरनल ऑडिट अफसर और डिप्टी रजिस्ट्रार के एक-एक पद के लिए आवेदन मांगे गए हैं। यह जानकारी इविवि की पीआरओ डॉ. कपूर ने दी।