शिक्षामित्रों ने काली पट्टी बांधकर जताया विरोध


बहराइच : परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षामित्रों ने सोमवार को प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर बांह पर काली पट्टी बांधकर कार्य किया। समायोजन बहाली की मांग उठाई। प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष शिवश्याम मिश्र ने बताया कि अपनी मांगों के समर्थन में आंदोलन का आगाज किया।



मीडिया प्रभारी दुर्गेशचंद्र श्रीवास्तव व जिला प्रवक्ता अनवारुल रहमान खान ने बताया कि 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में शिक्षामित्रों की समस्याओं का तीन महीने में समाधान का वादा किया था। प्रदेश सरकार ने लगभग साढ़े चार साल होने पर भी समस्याओं पर ध्यान नहीं दिया है। चार हजार से ज्यादा शिक्षामित्र आर्थिक तंगी और अवसाद के चलते अपनी जान गवां चुके हैं। मांगे पूरा कराने को लेकर
शिक्षामित्रों ने अपने-अपने विद्यालयों में काली पट्टी बांध कर कार्य किया। मांगे पूरी न होने तक विरोध जारी रहेगा। दिनेश कुमार सिंह, नौशाद, इमरान, सुधा यादव, अयोध्या प्रसाद मौर्य, कमल कुमार मौर्य, नीतू श्रीवास्तव, शलभ श्रीवास्तव, लोकेश मौर्य, विजय कुमार वर्मा, बुधराम, अनिल सिंह, शेषराज तिवारी, रिजवान अली, प्रवीण तिवारी, सतीश यादव, गिरीश जायसवाल, दिनेश चक्रवती, राजेश सोनी, मुजीब अहमद, तृप्ति सिंह, पुष्पा श्रीवास्तव, अर्चना वर्मा, अनिल वर्मा शामिल रहे।