परिषदीय स्कूलों द्वारा दी जाने वाली ऑनलाइन क्लास की स्पीड रोक रहे कई ब्रेकर, ये आ रही समस्या

शामली: कोरोनाकाल में पढ़ाई के लिए आनलाइन क्लास बड़े विकल्प के रूप में सामने आई है। विभिन्न स्कूलों की ओर से आनलाइन क्लास संचालित हो रही है, लेकिन बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं अभी भी इससे नहीं जुड़ पा रहे हैं। एक तो ग्रामीण क्षेत्र में नेटवर्क की समस्या है। ऐसे में स्मार्ट फोन या लैपटाप जिनके पास उपलब्ध है, उनकी पढ़ाई में नेटवर्क की बाधा है।


इसके अतिरिक्त परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले अधिकांश बच्चे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से हैं। उनके पास मोबाइल नहीं है। पिता के पास है तो वह साधारण मोबाइल है। वहीं, काफी छात्र इस वजह से भी परेशान हैं, क्योंकि लगातार कई-कई घंटे मोबाइल-लैपटाप के सामने बैठने से आंखों में दिक्कत आ रही है। साथ ही आनलाइन क्लास में काफी बच्चे सहज महसूस नहीं कर रहे हैं। क्योंकि जो पढ़ाया जा रहा है, वह कम ही समझ में आ रहा है।


जिले में कुल स्कूलों का आंकड़ा

(सीबीएसई,परिषदीय और माध्यमिक स्कूल का आंकड़ा) 1. जिले में स्कूलों की संख्या: यूपी बोर्ड के कुल कालेज-105 सीबीएसई के कुल स्कूल-40 जिले में कुल प्राथामिक विद्यालय- 750 ---------

2. कितने स्कूलों में चल रही आनलाइन क्लास सीबीएसई के कुल स्कूलों में चल रही आनलाइन क्लास-35 यूपी बोर्ड के कुल स्कूलों में चल रही आनलाइन क्लास- 98 जिले के कुल प्राथमिक विद्यालय में चल रही आनलाइन क्लास -720 ------------ 3. कितने छात्र-छात्राएं आनलाइन क्लास से वंचित यूपी बोर्ड के छात्र-छात्राएं आनलाइन क्लास से वंचित- 50 फीसद सीबीएसई स्कूल के छात्र-छात्राएं आनलाइन क्लास से वंचित- 20 फीसद प्राथमिक विद्यालयों में आनलाइन क्लास से वंचित छात्र-छात्राएं- 50 फीसद जिले के कुल दिव्यांग छात्र आनलाइन शिक्षा से वंचित-100 विद्यार्थी ----------- 4. कितने छात्र-छात्राओं पर नहीं स्मार्ट फोन सीबीएसई स्कूलों में कितने छात्र-छात्राओं पर नहीं स्मार्ट फोन- 10 फीसद यूपी बोर्ड के कितने छात्र-छात्राओं पर नहीं स्मार्ट फोन-40 फीसद जिले के प्राथमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं पर नहीं स्मार्ट फोन- 60 फीसद ---------

आनलाइन क्लास देने वाले कुल शिक्षक

जिले के सीबीएसई स्कूलों में कुल शिक्षक -520

यूपी बोर्ड के विद्यालयों में कुल शिक्षक-1300

प्राथमिक विद्यालयों में कुल शिक्षक- 2743

------------

आनलाइन क्लास में ये आ रही समस्या

- ग्रामीण क्षेत्रों में नेटवर्क की समस्या से नहीं हो पा रही आनलाइन क्लास

- यूपी बोर्ड के सैकडों विद्यार्थियों के पास स्मार्ट फोन नहीं होने के कारण से आ रही समस्या

- मोबाइल फोन में डेटा खत्म होने से समस्या आ रही है।