कार्यालयों में दिखे बेसिक शिक्षक तो होगी कार्रवाई, फ़रमान जारी


एटा: बेसिक शिक्षा विभाग के ब्लाक तथा जिला कार्यालयों के अलावा तमाम शिक्षक स्कूल के समय में विभिन्न विभागों में नजर आने जैसी शिकायतें मिली हैं। ऐसी स्थिति को लेकर विभाग ने हिदायत के साथ भविष्य में ऐसी स्थिति पाए जाने पर विभागीय कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। ब्लाक मुख्यालयों पर भी अब विभाग की नजर रहेगी।


यहां बता दें कि बेसिक शिक्षा के स्कूल 1 जुलाई से खुल चुके हैं। भले ही अभी बच्चों के स्कूल आने पर रोक हो, लेकिन शिक्षक शिक्षिकाओं के लिए नित्य स्कूल उपस्थिति अनिवार्य की गई है। स्कूल में उपस्थिति के साथ प्रशासनिक कार्य करने के निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं, लेकिन परिषदीय स्कूलों के शिक्षक स्कूल समय में ही विभागीय कार्यालयों के अलावा अन्य सरकारी महकमों में भी पहुंचने जैसी शिकायतें विभाग को प्राप्त हो रही हैं। बेसिक शिक्षा विभाग को ज्ञात हुआ है कि तमाम शिक्षक जहां तहसीलों में देखे जा रहे हैं। वहीं विकास भवन के अलावा कुछ अन्य महकमों में भी वह स्कूल छोड़कर किन्हीं भी कारणों से पहुंच रहे हैं। यहां तक विभागीय कार्यालय के अलावा ब्लाक संसाधन केंद्रों पर भी स्कूल समय में ही बेवजह शिक्षकों के मौजूद रहने जैसी स्थितियां प्रकाश में लाई गई हैं। विद्यालय समय के दौरान शिक्षकों का स्कूलों में उपस्थित न रहकर दूसरे कार्यालयों में घूमने जैसी स्थिति को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने शिक्षक कर्मचारियों की ऐसी स्थिति पर कड़ी नाराजगी जताई है तथा चेतावनी दी है कि यदि कोई शिक्षक कर्मचारी सक्षम अधिकारी की अनुमति तथा अवकाश लिए बिना किसी भी कार्यालय तथा स्कूल से अलग दूसरे स्थानों पर मौजूद होने की स्थिति सामने आती है तो संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। खंड शिक्षा अधिकारियों को भी इस मामले पर निर्देश दिए गए हैं कि वह ब्लाक संसाधन केंद्रों पर भी नजर रखने तथा यहां स्कूल समय में देखने वाले शिक्षक कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई करें। अब सिर्फ आनलाइन अवकाश बीएसए संजय सिंह ने स्पष्ट किया है कि अब किसी भी शिक्षक, कर्मचारी को आफलाइन अवकाश स्वीकृत नहीं किया जाएगा। निर्धारित निर्देशों के अनुरूप ही आनलाइन अवकाश लिया जाए तथा स्वीकृत किया जाए। इसके विपरीत स्थिति पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।