विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

पांच महीने बाद फिर लौटेगी रौनक: शासन के निर्देश पर सोमवार से खुलेंगे कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल

गोरखपुर: कोरोना के कारण लंबे समय से बंद स्कूलों में पांच माह बाद सोमवार से फिर रौनक लौटेगी।

शासन के निर्देश पर कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूलों को खोलने के लिए स्कूल प्रबंधन तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। सरकारी हो या निजी सभी स्कूलों में साफ-सफाई के साथ सैनिटाइजेशन चल रहा हैं। सभी स्कूल पंद्रह अगस्त तक अपनी सभी तैयारियां कर लेंगे, ताकि 16 अगस्त से स्कूलों का नियमित संचालन हो सके।


शासन के निर्देश पर दो पालियों में स्कूल संचालन को लेकर स्कूलों में बेंच और डेस्क व्यवस्थित किए जा रहे हैं। शिक्षकों की ड्यूटी भी दो शिफ्टों में लगाई जा रही है, ताकि कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए स्कूलों का संचालन हो सके।

कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए स्कूलों में आफलाइन पढ़ाई की तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं। साफ-सफाई के साथ सैनिटाइजेशन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। विद्यालय में आक्सीमीटर, थर्मल स्कैनर आदि की व्यवस्था पहले से ही है। छात्रों को मास्क लगाकर ही विद्यालय आने के लिए निर्देशित किया गया है।

ओम प्रकाश सिंह, प्रधानाचार्य, एमजी इंटर कालेज

स्कूल संचालन को लेकर तैयारियां चल रहीं हैं। सभी कक्षों का सैनिटाइजेशन कराया रहा है। थर्मल स्कैनर, सैनिटाइजर व हाथ धोने के लिए लिक्विड सोप की व्यवस्था कर दी गई है। कोरोना प्रोटोकाल के तहत कक्षाओं का संचालन किया जाएगा।

राजीव गुप्ता , निदेशक, स्टे¨पग स्टोन इंटर कालेज

कोरोना के कारण बच्चों का पठन-पाठन प्रभावित हुआ है। अब अभिभावक बच्चों को स्कूल भेजने के पक्ष में हैं, ताकि उनकी आगे की पढ़ाई निर्बाध रूप से जारी रह सकें। शासन के निर्देशानुसार कोविड गाइड लाइन का पालन सुनिश्चित कराया जाएगा, ताकि कोरोना संक्रमण को लेकर किसी तरह की दिक्कत न आए।

अजय शाही, अध्यक्ष, गोरखपुर स्कूल एसोसिएशन

कोरोना गाइड लाइन के तहत प्रधानाचार्यों व स्कूल प्रबंधन को कक्षाओं के संचालन के निर्देश दे दिए गए हैं। इसकी नियमित मानिटरिंग की जाएगी। कही से भी किसी तरह की कोई शिकायत मिलने पर संबंधित के विरुद्ध तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया, डीआइओएस

primary ka master