विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

शिक्षकों को स्थानांतरण का लाभ मिलेगा, जानिए इस पर क्या बोले बीएसए साहब


बलरामपुर: अब परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों को अंतर्जनपदीय तबादले के बाद ब्लॉक स्तरीय तबादले का अवसर मिलेगा। करीब पांच साल बाद जिले के भीतर शिक्षकों को स्थानांतरण का लाभ मिलेगा जिसकी काफी समय से शिक्षकों को प्रतीक्षा थी ।


जिले में 1575 प्राथमिक एवं 646 उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित हैं। इन स्कूलों में करीब 5500 शिक्षक कार्यरत हैं। जिले के भीतर तबादला न होने से 40 प्रतिशत से अधिक शिक्षक प्रतिदिन 50 से 60 किलोमीटर दूर स्कूल जाने को विवश हैं। लंबी दूरी तय करने के कारण आए दिन शिक्षकों को स्कूल पहुंचने में जहां देरी होती है, वहीं तमाम तरह की आवागमन में समस्याएं भी उठानी पड़ रही हैं। खासतौर पर महिला अध्यापकों के लिए लंबी दूरी स्कूल के लिए तय करना मुसीबतों का कारण बना रहता है। शासन ने शिक्षकों की समस्या को लेकर जिले के भीतर ब्लॉक स्तर पर तबादले की प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया है। शासन के निर्णय से शिक्षकों को काफी राहत मिलेगी। तबादले के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जाएगा। पूरी प्रक्रिया एक महीने के भीतर पूरी करने की तैयारी है। शिक्षकों को उनकी पसंद के ब्लॉक में स्थानांतरित करने की सरकार की मंशा है। विभागीय सूत्रों की मानें तो स्थानांतरण की सूची तैयार करते समय स्कूल में शिक्षकों की संख्या एवं दूरी पर विशेष ध्यान रखा जाएगा।

शिक्षक तबादले के लिए ऑनलाइन आवेदन करें : शिक्षकों का ऑनलाइन होगा तबादला, ऑफलाइन नहीं होगा मान्य एक माह पूर्व तत्कालीन बेसिक शिक्षा महानिदेशक विजय किरण आनंद ने ब्लॉक स्तरीय शिक्षकों के तबादले ऑनलाइन होने का निर्देश दिया था । ऑनलाइन आवेदन न करने पर कोई भी तबादला नहीं होगा। ऑफलाइन आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। यह व्यवस्था शिक्षकों के हित को देखते हुए पारदर्शी तरीके से करने के लिए की गई है ।

परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों का जिले के भीतर तबादले की पहल निदेशालय का सराहनीय कदम है। इस व्यवस्था से दूर-दराज में तैनात अध्यापकों को मनचाहे ब्लॉक में तैनाती का अवसर मिलेगा। साथ ही साथ नजदीकी स्कूल होने पर शिक्षक मन लगाकर समय से स्कूल में बच्चों को तालीम देंगे ।
डॉ. रामचंद्र, बीएसए बलरामपुर

primary ka master